आज की ताजा खबर

स्टेशन अधीक्षक को मांग पत्र सौंपा गया

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 13 फरवरी, भारत की जनवादी नौजवान सभा के अखिल भारतीय रेल रोको अभियान के आवाहन के क्रम मे रेलवे स्टेशन पर रेलवे का निजीकरण न किये जाने, रेलवे में रिक्त पड़े पदों को तत्काल भरे जाने, रेलवे में रिटायर्ड लोगों को भर्ती बन्द किये जाने, रेलवे की जमीनों को निजी हाथों में न बेंचे जाने, बुलेट ट्रेन की जगह सामान्य रेल सुरक्षित चलाये जाने सहित पांच सूत्रीय मांग पत्र स्टेशन अधीक्षक के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा गया।
संगठन के अध्यक्ष पर शेषमणि व जिलामंत्री सियाराम सोनकर के नेतृत्व में संगठन के साथी रेल स्टेशन पर इकट्ठा हुए और सरकार विरोधी नारे लगाते हुए रेल स्टेशन के प्लेटफार्म की ओर बढ़ें, जहां पर भारी मात्रा में पुलिस बल के संरक्षण में स्टेशन अधीक्षक के कक्ष में ज्ञापन सौंपा
गेट पर मौजूद सभी साथियों को सम्बोधित करते हुए सीटू नेता व माकपा जिला सचिव का0रामगढ़ी चैधरी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार रेल विभाग पंूजीपतियों के इशारे पे निजीकरण करने का जो फैसला लिया है, जो देश के आम अवाम जनता के लिए घातक साबित होगा। इस लड़ाई को और व्यापक करने की जरूरत है।
संगठन के पूर्व अध्यक्ष का0सत्यराम व विजय चैधरी ने कहा कि मोदी सरकार ने सत्ता में आने से पूर्व अपने संकल्प पत्र में 2 करोड़ युवाओं को नौकरी देने का झांसा दिया था, जो कि आज तक नहीं पूरा किया गया है, और रेलवे विभाग में खाली पड़े पदों को तत्काल भरें जाने की मांग किया गया।
आंदोलन मे पूनम देवी, विजय लक्ष्मी, नवनीत यादव, नीलू गौड़, गणेश शंकर विद्यार्थी, हीरालाल, मोहन शर्मा, नरसिंह भारद्धाज, विनोद कुमार, दिलीप कुमार, अनिल सिंहानियां, दिनेश कुमार, ओम प्रकाश, कौशल कुमार, रामशब्द, विफई, फूलचन्द्र सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below