आज की ताजा खबर

सांसद श्रीमती डिम्पल यादव ने आर0टी0आई0 भवन में कला एवं क्राफ्ट्स उत्पादों की प्रथम पब्लिक फोटो गैलरी का शुभारम्भ किया

%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
लखनऊ 19 दिसंबर , उत्तर प्रदेश के लाखों कुशल कारीगर/दस्तकार/शिल्पकार बड़ी कुशलता से विभिन्न वस्तुओं से बड़े पैमाने पर आकर्षक एवं कलात्मक वस्तुओं का निर्माण प्रदेश एवं देश तथा विदेशों में प्रयोग हेतु कर रहे हैं। कारीगर/शिल्पकार तथा दस्तकार ऊन, काष्ठ, सिल्क, काटन, मिट्टी, ग्लास, स्टोन, बोन (अस्थि) सींग, शेल्स, ब्रास, गोल्ड, सिलवर, धातुओं, ताँबा, पीतल, गेमस्टोन्स, कागज, फूल, गन्ना, बाँस, घास, जूट, चमड़ा, संगमरमर, पेंट, इंक, रंगाई, रेसिन, वैक्स आदि वस्तुओं से अनेक आकर्षक एवं उपयोगी वस्तुओं का निर्माण कर रहे हैं लेकिन उ0प्र0 में सम्पूर्ण प्रदेश में कला और क्राफ्ट्स के संग्रह के लिए कोई स्थान नहीं है। उ0प्र0 के 75 जनपदों के कला/क्राफ्ट के 100 कुशल एवं निपुण कारीगरों का यह प्रथम हस्तकला कारीगरों की अभिनव शुरूआत है।
सूचना आयोग में कला एवं क्राफ्ट से सम्बन्धित पब्लिक फोटो गैलरी स्थापित की गयी है।
आर0टी0आई0 भवन राज्य सूचना आयोग उ0प्र0 लखनऊ में कला एवं क्राफ्ट के निपुण कारीगरों एवं उनके द्वारा निर्मित वस्तुओं से सम्बंधित एक पब्लिक फोटो गैलरी की स्थापना की गयी है। इसका शुभारम्भ कन्नौज की सांसद श्रीमती डिम्पल यादव ने किया। उन्होंने इस फोटो गैलरी का अवलोकन भी किया। श्रीमती डिम्पल यादव ने इसकी सराहना की है।
उन्होंने कला एवं क्राफ्ट को बढ़ावा देने हेतु राज्य सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के विषय में उपस्थित लोगों को अवगत कराया। उन्होंने कहा प्रदेश सरकार ने इन कारीगरों के व्यवसाय के उत्थान हेतु सराहनीय पहल की है।
इस फोटो गैलरी की स्थापना का मूल उद्देश्य राज्य में कला एवं क्राफ्ट की समृद्धिशाली परम्परा के प्रति लोगों में जागरूकता उत्पन्न करने के साथ इसे प्रदेश में और अधिक वैभवशाली बनाने हेतु कारीगरों को प्रोत्साहित/प्रेरित करना है। आम जनता को इसके अवलोकनार्थ निःशुल्क व्यवस्था की गयी है। यह जन फोटो गैलरी उ0प्र0 की प्रथम कला एवं क्राफ़्ट के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने तथा गौरवशाली परम्परा को आगे बढ़ाने में प्रेरक योगदान करने वाली शासकीय म्यूजियम एवं अन्य अनूठी गैलरियों के समान ही है जो आम जनता एवं नागरिकों के लिए लाभप्रद है।
उ0प्र0 के समस्त जनपदों के दक्ष एवं निपुण कला एवं क्राफ्ट के 100 कारीगरों की यह सराहनीय पहल फराह उस्मानी द्वारा शुरू की गयी है। फोटो गैलरी प्रदर्शनी नैव्या अग्रवाल द्वारा निर्मित की गयी है। यह प्रोजेक्ट स्वैच्छिक संगठन ‘सफर’ द्वारा समर्थित की गयी है। उ0प्र0 सूचना आयोग ने इस फोटो गैलरी को सूचना भवन में स्थान देकर उ0प्र0 की कला एवं क्राफ्ट को बढ़ावा देने हेतु नागरिकों/पर्यटकों में जागरूकता उत्पन्न करने के लिए योगदान दिया है।
100 हैण्डीक्राफ्ट्स डाकूमेन्ट्री फिल्म का निर्माण एवं विकास सबा उस्मानी द्वारा किया गया है जिसके माध्यम से इन क्राफ्ट्स उत्पादित चीजों को 15 श्रेणियों में जिसमें दस्तकारों एवं कलाकारों द्वारा सामग्री का प्रयोग किया गया है, उसे स्क्रीन पर प्रदर्शित किया गया है।
उ0प्र0 हैण्डीक्राफ्ट्स ग्रुप के सदस्यों जिन्होंने फोटोग्राफ्स, क्राफ्ट्स मैपिंग, संदर्भो, विचारों एवं सुझावों के द्वारा योगदान दिया हैं उनमें अलंकृता सिंह, अरीबा तनवीर, आसमा एवं अमीरा हुसैन, अशीमा सिंह, भारती सिंह, डाली सिंघल, फरजाना शहाब, गीताली त्रिवेदी, हेमा धींगरा, नन्दिता सिंह, नैव्या अग्रवाल, नीलू गोयल, नीतू गुप्ता, निखत शहजाद, निवेदिता सिंहल, प्रीती राघव, रेखा पंवार, रितु माहेश्वरी, ऋतु सुहास, सलोनी गोयल, संगीता भट्नागर, सुजाता अभिजात, वन्दना सहगल, विजया चौबे, विनीता पटेल एवं वरूणा दयाल शामिल हैं। इनमें से कुछ सदस्यों ने अपने अनुभवों तथा कला एवं क्राफ्ट्स से जुड़े कारीगरों की सराहनीय, रोचक एवं प्रेरक कहानियों का भी उल्लेख किया। 100 उ0प्र0 हैण्डीक्राफ्ट्स के विषय में अधिक जानकारी हेतु सुश्री नैव्या अग्रवाल जिन का फोन नं0-९१+९६२८३७१०१६ पर सम्पर्क कर सकते हैं।
सांसद श्रीमती डिम्पल यादव द्वारा कार्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर 100 उ0प्र0 हैण्डीक्राफ्ट्स की प्रमुख फराह उस्मानी, सबा उस्मानी मुख्य सूचना आयुक्त श्री जावेद उस्मानी तथा समस्त राज्य सूचना आयुक्तगण एवं पूर्व कृषि उत्पादन आयुक्त श्री अनीस अंसारी के अलावा गणमान्य नागरिक तथा उक्त कार्यक्रम से जुड़े व्यक्ति उपस्थित थे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below