आज की ताजा खबर

संतकबीरनगर के विधायक ने गरीबो मे कम्बल बांटा

(विचारपरक प्रतिनिधि द्धारा)
संतकबीरनगर 7 दिसम्बर , विधानसभा खलीलाबाद सदर विधायक दिग्विजय नारायण जय चैबे के आवास ग्राम भिटहा पोस्ट विश्वनाथपुर आवास परिसर में श्रीमद भगावत कथा के 5 वें दिन वृन्दावन से पधारे कथावाचक पं0 अजय शास्त्री ने श्रोताओ को वामन प्रभु एवं श्रीकृष्ण अवतार प्रसंग का वर्णन करते हुए भक्तिमय ज्ञान का रसपान कराया। इस अवसर पर कथा आयोजक पं0 सूर्य नारायण चतुर्वेदी के आर्शिवाद से उनके पुत्र विधायक जय चैबे, सूर्या इण्टरनेशनल एकेडमी के प्रबंधक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी एवं एस0आर0 एकेडमी के प्रबंधक/पूर्व ब्लाक प्रमुख नाथनगर राकेश चतुर्वेदी के सौजन्य से गांव के जरूरत मंदो में कम्बल वितरण किया गया।
इस अवसर पर कथा के आयोजक पं0 सूर्य नारायण चतुर्वेदी ने कहा कि हर वर्ष की भाॅति इस वर्ष भी जरूरतमंदो को कम्बल दिया गया और 8 नवम्बर को महिलाओ में साड़ी वितरण किया जायेगा। उन्होने कहा कि समाजसेवा के लिए वह सदैव तत्पर रहेगे। कम्बल वितरण कार्यक्रम सम्पन्न होने के बाद कथावाचक पं0 अजय शास्त्री ने मधुर भजनो के माध्यम से श्रोताओ का मन मोह लिया उन्होने पाॅचवे दिन कथा को गति देते हुए कहा कि श्री कृष्ण भगवान की जन्म कथा, पूतना वध, शकटासुर, तृणावर्त उद्धार, गोकुल लीला माखन चुराना, वृंदावन जाकर कंस द्वारा भेजे हुए राक्षसों का उद्धार करना, कालिया नाग का उद्धार , ब्रह्मा जी का मोह भंग लीला, गोवर्धन लीला, श्रीकृष्ण जन्म की लीला का मनोहारी वर्णन किया। श्री गोपाल भइया जी महाराज ने बताया कि जो प्राणी पहले चार दिन की कथा आदि नहीं सुन पाया हो और वह भगवान की बाल लीलाएं ही सुन ले तो वह प्राणी सभी पापों से मुक्त हो जाता है। वह भागवत कथा का पूर्ण पुण्य पा लेता है पहले चार दिन की तपस्या का ही फल इस दिन प्राप्त होता है। श्रीमदभागवत कथा मनुष्य के जीवन में सुखों का संचय करने वाली होती है। पूरे मनोयोग के साथ कथा श्रवण मात्र से मनुष्य के जीवन में चमत्कारिक परिवर्तन हो सकते हैं। श्रीमद भागवत में तमाम एसी कथाएं हैं जो हमें प्रेरणा देती है और कलयुग में जीवन को कलात्मक ढंग से जीने का मार्ग प्रशस्त करती है। भक्तों ने आरती की। इस अवसर पर कथा को आयोजक पं0 सूर्य नारायण चतुर्वेदी, सूर्या एकेडमी के प्रबन्धक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी, पूर्व ब्लाक प्रमुख नाथनगर राकेश चतुर्वेदी, सविता चतुर्वेदी, सर्वग चतुर्वेदी, अखण्ड प्रताप चतुर्वेदी, राजन चतुर्वेदी, गोमती प्रसाद चतुर्वेदी, मायाराम पाठक, बलराम यादव, चिन्तामणि, सहित भारी संख्या में सभ्रान्त नागरिक एवं श्रोतागण उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below