आज की ताजा खबर

शोहरतगढ़ पुलिस आवास की समस्या

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
शोहरतगढ़ए (सिद्धार्थनगर) 19 मई , इण्डो.नेपाल सीमा से सटे थानों पर जहां पुलिसवालों को काफी चाक.चैबन्द और सतर्क होना पड़ता हैं वहीं सतर्कता के लिए मूल भूत आवश्यकताओं का होना भी जरूरी बताया जाता है।
शोहरतगढ़ थाने से मिली जानकारी के अनुसार क्षेत्र मे कुल 156 गाँव का है और इसके सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस इंस्पेक्टर सहित 5 एस0आई0ए 7 हेड कांस्टेबलए 50 कास्टबेलए 3 महिला आरक्षीए 2 कम्प्यूटर आपरेटरए 1 ड्राईवर कार्यरत है। शोहरतगढ़ थाना नेपाल सीमा से सटा होने के कारण काफी संवेदनशील माना जाता है।
लेकिन गौर करने वाली बात है कि जिन पुलिस कर्मियोें के कन्धे पर 156 गावों की जिम्मेदारी है उसमें ज्यादेतर पुलिस कर्मी व दरोगाओं के न तो रहने के लिए आवास है न ही पानी पीने की व्यवस्था। आलम यह है कि जिन्हे बैरेक आवंटित नही हुआ है वह थाना से अगल बगल किराये के मकान मे रहकर सीमाई थाना क्षेत्र का सुरक्षा कर रहे हैं।
उक्त के संदर्भ में जब थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रविन्द्र कुमार सिंह से पूछा गया तो उनका कहना है थाना मे कांस्टेबल को रहने के लिए आवास की कमी के साथ साथ क्षेत्र के हिसाब से कांस्टेबलों की कमी भी है। आवासए बैरिक आदि की समस्या को लेकर जल्द ही एक कार्ययोजना बनाकर पुलिस अधीक्षक व स्थानीय विधायक को भेजेंगे जिससे कांस्टेबल के लिए रहने के लिए आवास व हैण्ड पाइप का व्यवस्था हो सके।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below