आज की ताजा खबर

शासकीय योजनाओं का क्रियान्वयन गुणवत्ता पूर्ण ढंग से किया जाय-दिनेश कुमार सिंह

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 13 मार्च, मण्डलीय विकास कार्यो की समीक्षा आयुक्त दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में मण्डलायुक्त सभागार में सम्पन्न हुई। इस बैठक मंे सभी मण्डलीय अधिकारी शासकीय योजनाओं का क्रियान्वयन पूरी गुणवत्ता के साथ किया जाना सुनिश्चित करे। निर्माण कार्यो की गुणवत्ता बनाये रखने के लिए तीनों जनपदों के जिलाधिकारीगण विशेष रूप से राष्ट्रीय स्वच्छता मिशन स्वास्थ्य विभाग पेयजल योजना एवं निर्माण कार्यो की समीक्षा करे।
मण्डलायुक्त श्री सिंह ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि जिन विभागों द्वारा निर्माण कार्य पूरे कर लिये गये हैं उसका जल्द से जल्द विद्युत कनेक्शन दिया जाय तथा आमजनों को विद्युत कनेक्शन देने में मात्र 53 प्रतिशत कार्य किया गया है इसमें तेजी लायी जाय। मण्डलायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग में तैनात डाक्टरों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के साथ साथ जिला चिकित्सालय, महिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र, प्राथििमक स्वास्थ्य केन्द्र आदि में दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित किया जाय तथा स्टाॅफ नर्स आदि की तैनाती भी पूरी की जाय।
मण्डलायुक्त ने यह भी कहा कि शुद्ध पेयजल आपूर्ति से जेई और एईएस बीमारियों से मुक्ति पायी जा सकती है तथा गर्मी की दृष्टि को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों को देखते हए पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकती है इसमें पंचायत विभाग समन्वय करे। उनके स्वच्छता कार्यो मे शौचालयों का निर्माण अभी तक 75 प्रतिशत ही हुआ है जबकि तीनों जनपदों में 10-10 करोड की धनराशि अवशेष है। इसको शीघ्र निर्धारित कार्ययोजना के अनुसार ग्राम सभाओं को आंवटित किया जाय। मण्डलायुक्त ने बीमारियों से प्रतिरक्षण के लिए जेई, एईएस, मीजल्स, हेपेटाइटिस और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण भी लगभग 72 प्रतिशत तक ही हुआ है इसकोे इस माह के अन्त तक तथा आवश्कतानुसार अभिायान चलाकर शत प्रतिशत पूरा करने के निर्देश दिये गये है।
मण्डलायुक्त ने 14 वे केन्द्रीय वित्त आयोग से प्राप्त धनराशि का अभी तक 53 प्रतिशत व्यय करने पर पंचायत विभाग को तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देश दिया। समाज कल्याण के छात्रवृत्ति वितरण के आॅनलाइन प्राप्त होने तथा वृद्धावस्था एवं दिव्यांग जनों के प्रार्थना पत्रों के शत प्रतिशत फीडिंग करने के निर्देश दिये गये। बैठक मे दिव्यांग जन विभाग के प्रभारी उप निदेशक अनुपस्थित रहे उनसे स्पष्टीकरण लेने का निर्देश दिया गया। मनरेगा मे काम कर रहे लोगो के भुगतान की कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये गये। प्रधानमंत्री सड़क योजना में अभी तक भौतिक प्रगति 43 प्रतिशत तथा राम जानकी मार्ग पर कार्य धीमी गति का है इस पर मण्डलायुक्त ने तेजी लाने तथा जिलाधिकारी से समय समय पर इसकी समीक्षा करने और आवश्यक कार्यवाही करने के लिए कहा।
बैठक मे अमहट पुल के विषय पर चर्चा हुई जिसमंे पीडब्ल्यू डी एवं सेतु निगम द्वारा बताया गया कि नाबार्ड योजना से इस पुल को वित्तीय सहायता हेतु अनुमोदन दिया गया है जिस पर अभी शासनादेश प्राप्त नहीं हुआ हैै। इस पर मण्डलायुक्त ने सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों से शीघ्र से शीघ्र पत्राचार करने तथा शासन से सम्पर्क कर नवीनतम प्रगति रिपोर्ट लाने का निर्देश दिया तथा स्वयं ही शासन को सन्दर्भित किया।
मण्डलायुक्त ने पीडब्ल्यूडी एवं सेतु निगम के अधिकारियों को अपने अपने कार्यो में तेजी लाने एवं प्र्रगति रिपोर्ट मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारी कार्यालय को देने का निर्देश दिया। इस बैठक में कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग द्वारा निर्धारित 62 सूत्रीय कार्यक्रमों की गहनता से समीक्षा की गयी।
मण्डल में निमार्णाधीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवनों तथा अस्पतालों के आवासीय भवनों, आॅगनवाडी केन्द्रों शौचालयों आदि़ के निर्माण में शिथिल रवैया अपनाये जाने पर आयुक्त श्री सिंह ने निर्देशित किया कि उपेक्षात्मक और टालू रवैया छोड़कर 31 मार्च 18 के पूर्व निर्माणाधीन कार्यो को पूर्ण कराते हुए भवनों को संबंधित विभाग को हैण्डओबर कराना सुनिश्चित करे। बैठक मंे आयुक्त श्री सिंह ने स्वास्थ्य सेवाओं, जीवनरक्षक दवाओं की उपलब्धता, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, वेक्टरजनित रोग, अधूरे निर्माण कार्य, राज्य, 14वाॅ वित्त आयोग, छात्रवृत्त वितरण, पेंशन योजनाओं, महिला हेल्प लाइन, मनरेगा, पीएमजीएसवाई, पेयजल योजनाओं, खाद्य सुरक्षा योजना, नई सड़कों के निर्माण, मार्गो के अनुरक्षण, नहरों की सफाई, नगरीय स्ट्रीट लाइट, अमृत एवं स्मार्ट सिटी योजना, अपशिष्ट प्रबंधन, गन्ना मूल्य भुगतान, विद्युत, पारदर्शी किसान सेवा योजना, मृदा परीक्षण, उर्वरको की उपलब्धता व वितरण, आवास योजना, पुष्टाहार सहित खनन, ओडीएफ सहित विभिन्न कार्यो की वृहद समीक्षा की गयी। गन्ना विभाग की समीक्षा के दौरान जानकारी दी गयी कि वाल्टरगंज चीनी मिल का 23.67 करोड़, बभनान चीनी मिल का 22 करोड़ तथा रूधौली चीनी मिल का 112 करोड़ रूपये की धनराशि किसानों का बकाया है मण्डलायुक्त ने गन्ना विभाग को किसानों के बकाया भुगतान को समयबद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।
बैठक में मण्डलायुक्त श्री सिंह ने कहा कि कार्यो के निस्तारण में किसी भी प्रकार का व्यवधान या प्रक्रियाजन्य गतिरोध आने पर उसकी तात्कालिक सूचना मण्डल मुख्यालय और अपने जिलाधिकारी को अनिवार्य रूप से अवगत करावे, जिससे समस्याओं का निराकरण त्वरितगति से कराया जा सके। इस बैठक में जिलाधिकारी बस्ती सुशील कुमार मौर्या, जिलाधिकारी संतकबीर नगर मार्कण्डेय शाही के अतिरिक्त मुख्य विकास अधिकारी बस्ती अरविन्द कुमार पाण्डेय, सिद्धार्थ नगर के जिला विकास अधिकारी के अलावा अपर निदेशक स्वास्थ्य, संयुक्त निदेशक कृषि, मुख्य अभियन्ता जलनिगम, पीडब्ल्यूडी, विद्युत, आरईएस के अतिरिक्त कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि तथा उपनिदेशक अर्थ एवं संख्या एन एन राय, उपनिदेशक सूचना, उपनिदेशक पंचायत, प्रभारी वन संरक्षक, मुख्य चिकित्साधिकारी जे0एल0एम0कुशवाहा अन्य जनपदों के मुख्य चिकित्साधिकारीगण सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण, मण्डलीय अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।
इस बैठक के अगले चरण में राजस्व विभागों के कार्यो की समीक्षा की गयी जिसमें राजस्व वादों का निस्तारण पटटों का आंवटन तथा नगरीय क्षेत्रों में एलइ्र्रडी लाइट लगाने आदि बिन्दुओ पर विचार किया गया। बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन राजाराम एवं अन्य मण्डलीय अधिकारी एवं सहायक उपस्थित थे। विकास कार्यो एवं कल्याण कारी तथा शासन के विभिन्न प्रारूपों का संक्षिप्त विवरण सयुक्त विकास आयुक्त तेज प्रताप मिश्र द्वारा प्रस्तुत किया गया।
मण्डलायुक्त द्वारा जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षकों के साथ मण्डल के कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की गयी। जिसमें पुलिस उपमहानिरीक्षक राकेश चन्द्र शाहू आदि उपस्थित थे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below