आज की ताजा खबर

विधानसभा चुनाव शांति पूर्वक कराने के लिए हर सम्भव उपाय किया जायेगा-सूर्यपाल गंगवार

विधानसभा चुनाव शांति पूर्वक कराने के लिए हर सम्भव उपाय किया जायेगा-सूर्यपाल गंगवार

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
सिद्धार्थनगर 23 जनवरी , विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2017 को सकुषल, निष्पक्ष, स्वतन्त्र, भयमुक्त एवं शन्तिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराये जाने के लिए जनपद में पाॅचों विधान सभाओं के लिए कुल 15 उड़न दस्ता टीमों द्वारा दिनांक 07 जनवरी 2017 से अब तक की गयी कार्यवाही के सम्बन्ध में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट सूर्यपाल गंगवार द्वारा अम्बेडकर सभागार में समस्त उड़न दस्ता प्रभारियों के साथ एक आवष्यक बैठक की गयी।
जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट सूर्यपाल गंगवार ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए विधानसभावार उड़न दस्ता प्रभारियों द्वारा की गयी कार्यवाहियों की प्रगति की जानकारी ली गयी।
जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट ने सभी उड़न दस्ता प्रभारियों द्वारा आज की तिथि तक उनके द्वारा जो भी कार्यवाही की रिपोर्ट से यह पता चलता है कि शून्य के बराबर है। उड़न दस्ता टीम के प्रभारियों की इस कार्य प्रणाली पर जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त की गयी। उन्होंने बताया कि निर्वाचन के कार्य में आप सभी लोग पूरी तरह संवेदनषील तरीके से कार्य को अंजाम नही दे रहे है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने वरिष्ठ कोषाधिकारी अनुराग कुमार श्रीवास्तव को निर्देष दिया कि आज की इस बैठक के बाद से समस्त उड़न दस्ता टीम के प्रभारियों द्वारा प्रभावी रूप से चेकिंग करके बढि़या रिपोर्ट नही आती है तो इनकी रिपोर्ट स्वीकार नही की जायेगी। सभी उड़न दस्ता टीम प्रभारी पूरी रात चेकिंग अभियान चलाकर प्रभावी कार्यवाही सुनिष्चित करें। कोई भी व्यक्ति पचास हजार से अधिक की धनराषि कैष लेकर बिना बैद्य कागजात के नही लेकर चल सकता है।
उन्होंने बताया कि उड़न दस्ता का कार्य जनपद में इस तरह का माहौल पैदा किया जाये कि जिससे लोग दहषत में आकर अनाधिकृत रूप से कैष तथा अन्य कोई सामाग्री जो मतदाताओं को लुभाने वाली हो लेकर न चले।
यदि किसी के वाहन में अनाधिकृत सामग्री शराब, साड़ी, कैष तथा अन्य कोई भी अवैध सामग्री पायी जाये तो उसके विरूद्ध सम्बन्धित थाने के अन्तर्गत कार्यवाही की जाये एवं सम्बन्धित उपजिलाधिकारी को भी अवगत करायें। जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट ने निर्देष दिया कि आज से पूरी निष्ठा के साथ निर्वाचन कार्यो में अपनी कर्तव्यों का पालन करते हुए प्रभावी कार्यवाही सुनिष्चित करेंगे जिससे जनपद में विधानसभा सामान्य निर्वाचन का कार्य सकुषल, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो।
इस बैठक में उपरोक्त के अतिरिक्त मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक अनिल कुमार मिश्रा, अपर पुलिस अधीक्षक अषोक कुमार, जिला विकास अधिकारी सुदामा प्रसाद, समस्त उड़न दस्ता टीम के प्रभारी एवं उनके साथ सहयोगी अधिकारी भी उपस्थित रहे।एक अन्य बैठक मे जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट सूर्यपाल गंगवार ने उपस्थित अधिकारियों से लोक सभा निर्वाचन/विधानसभा निर्वाचन कार्यो में जो अधिकारी पहले भी अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन कर लिये है अथवा जो अधिकारी प्रथम बार विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2017 को सकुषल सम्पन्न कराये जाने के लिए नियुक्त किये गये है। सभी अधिकारियों से हाथ उठवाकर जानकारी प्राप्त की गयी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देष देते हुए कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अब तक जो निर्देष प्राप्त हुए है या निर्देष आ रहे है उसकी विस्तृत जानकारी के लिए निर्देषों को पूरी तरह से पढ़ ले जिससे किसी भी प्रकार की समस्या न उत्पन्न होने पाये उन्होंने बताया कि निर्वाचन कार्य में सेक्टर आफिसर का अत्यन्त ही अहम रोल होता है।निर्वाचन आयोग द्वारा इस कार्य के लिए बहुत पहले से ही आप सभी लोगों को जिम्मेदारियां दे दी गयी है। सभी सेक्टर आफिसर अपने सेक्टर क्षेत्र के अन्तर्गत भ्रमण करके बूथों पर आवष्यक समस्त मूल-भूत आवष्यकताओं की जानकारी प्राप्त कर ले, जो कमियां रह गयी है उसकी जानकारी निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध करा दे जिससे उसके निस्तारण की कार्यवाही सुनिष्चित की जा सके।
जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट सूर्यपाल गंगवार ने समस्त सेक्टर आफिसरों को निर्देष दिया कि बूथों तक जाने के लिए यदि कही भी सड़के खराब है तो उसकी सूचना नोडल अधिकारी अधि0अभि0 लो.नि.वि. (प्रा.ख.) सी.पी. गुप्ता को दी जायें तथा साथ ही साथ मुझे भी अवगत कराया जाये। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि सड़कों के मरमम्त कार्य के लिए धनराषि की कोई कमी नही है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने अधि0अभि0 लो.नि.वि. (प्रा.ख.) सी.पी. गुप्ता को निर्देष दिया कि जनपद में सेक्टर आफिसरों द्वारा सड़को के मरमम्त कार्य के लिए कही से किसी भी स्थान की सूचना प्राप्त होती है तो उसे प्राथमिकता के आधार पर मरमम्त का कार्य कराने की कार्यवाही सुनिष्चित करेंगे। इसके अलावा विद्युत व्यवस्था, शौचालय क्रियाषील है अथवा नही, पेयजल व्यवस्था आदि के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों को पूरी जिम्मेदारी के साथ समस्त सुविधायें पूर्ण कराये जाने का निर्देष दिया गया तथा साथ ही साथ जिला बेसिक षिक्षा अधिकारी को निर्देष दिया गया कि जो विद्यालय बूथ बनाये गये है उन बूथों के नाम व बूथ संख्या अवष्य रूप् से लिखा दिये जाये। विद्यालय की रसोइयों से मतदान दिवस के दिन पोलिग पाटियों के लिए भोजन आदि की व्यवस्था अपने स्तर से तैयारियां पूर्ण कर ले।
जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट श्री सूर्यपाल गंगवार ने समस्त अधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि कोई भी समस्या यदि आती है तो उसके निराकरण के लिए मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक या मेरे मोबाइल नम्बर पर किसी भी समय बिना झिझक जानकारी प्राप्त कर सकते है। समस्या का निराकरण तत्काल प्रभाव से किया जायेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि विधानसभा सामान्य निर्वाचन का कार्य पूरी निष्पक्षता के साथ स्वतन्त्र रूप से सम्पन्न कराये जाने के लिए हम सभी लोगों की जिम्मेदारी है। उन्होंने बताया कि किसी भी अधिकारी/कर्मचारी की निष्पक्षता पर कोई सन्देह आ जाता है तथा उसकी पुष्टि हो जाने पर निर्वाचन में उसका कैरियर खत्म हो जाता है। किसी भी बेबुनियाद षिकायतों पर किसी के विरूद्ध कार्यवाही नही होगी। निर्वाचन कार्य की ड्यिूटी में सभी लोग पूरे मनोयोग के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे।निर्वाचन कार्य में किसी भी प्रकार की गलती नही होना चाहिए, जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त अधिकारियों को आगाह करते हुए कहा कि निर्वाचन के समय किसी भी अधिकारी को कोई व्यक्ति गलत तरीके से परेषान नही करने पायेगा। अन्त में जिला निर्वाचन अधिकारी ने मसहूर शायर वसीम बरेलवी का नात पढ़कर के अधिकारियों को सुनाया “मुझे वह खौफ दे मौला, मुझी पर ही निगाह सबकी है।“ सभी अधिकारियों को अपनी शुभकामनायें दी।
मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक श्री अनिल कुमार मिश्रा ने बताया कि जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जो भी निर्देष दिये गये है उसका शत-प्रतिषत सभी अधिकारी अनुपालन करेंगे। सभी सेक्टर आफिसर अपने क्षेत्र की एक डायरी बनाकर अपने पास सुरक्षित रखेंगे जिससे कोई भी समस्या उत्पन्न होने पर उसका निराकरण आसानी के साथ किया जा सके।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below