आज की ताजा खबर

वन कर्मी की लाश मिली

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
सिद्धार्थनगर 19 दिसम्बर, सामाजिक वानिकी प्रभाग मंे कार्यरत फारेस्ट गार्ड की आफिस के छत से लटकी लाश पाई गई है। इससे वन विभाग में सनसनी छा गई है। मंगलवार रात हुई घटना की खबर लोगों को आज सुबह पता चली। मृतक का नाम राघवेन्द्र मिश्र है। उनकी उम्र पचास वर्ष बताई जाती है। इस रहस्यमय मौत को लेकर नगरवासियों में काफी चर्चा है।
बताया जाता है कि आज सवेरे लगभग दस बजे जब वन विभाग के लोग आफिस पहुंचे तो वहां वन रक्षक राघवेन्द्र मिश्र के चेम्बर में छत के कुंडे से उन्हीं की लाश लटक रही थी। यह देख वहां हंगामा मच गया। आनन फानन में पुलिस को खबर दी, सदर की पुलिस ने मौके पर पहूंच कर लाश कब्जे में कर लिया तथा मौके पर पहंुचे अपर पुलिस अधीक्षक मुन्नालाल ने कहा कि मामला संदिग्ध दिखायी दे रहा है इसकी जांच कराकर कार्यवाही की जायेगी किंतु प्रथम दृष्टया यह मामला आत्म हत्या का लग रहा है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले का पर्दा उठ सकता है।
राघवेन्द्र मिश्र का घर वन विभाग कार्यालय से आधा किमी दूर शहर के हुसैनगंज मुहल्ले में स्थित है। तो फिर वह किन हालात में रात में कार्यालय पहूंचे और उन्होंने किस कारण से खुद को फांसी लगाया, इस पर तरह तरह की कयासबाजी जारी है। कुछ लोगों का कहाना है कि उनका बीती रात परिवार में कुछ विवाद हुआ तो वह घर से कम्बल लेकर सोने के लिए कार्यालय आ गये। फिर गुस्से में जान दे दी।
लेकिन इस बात को सही माना जाये तो भी कई सवाल उठते हैं।
पहली बात तो यह है कार्यालय की छत नीची है। मृतक ने मेज पर चढ़ कर कुंडे में फंदा लटकाया, मगर उस मेज को हटाया नहीं, इस हालत में उनका पैर मेज पर रहता। जबकि मरने के लिए वहां से मेज को हटाने और शरीर को लटकाया जाना जरूरी था। फांसी के द्धारा आत्महत्या करने की बात का यह मुख्य बिंदु है।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below