आज की ताजा खबर

लापरवाही बरतने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही होगी

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
संतकबीरनगर 30 जून, जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में जनपद में संचालित हो रहे स्वास्थ्य सेवाओ की समीक्षा करते हुए चिकित्साधिकारियो एवं स्वास्थ्य कर्मियो को निर्देश दिया कि जनसेवा में किसी प्रकार की लापरवाही न बरते शिकायत पाये जाने पर जांचोपरान्त उनके विरूद्व कडी कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि शासन की प्राथमिकता को चिकित्साधिकारी वरीयता दे लगातार स्वास्थ्य केन्द्रो का निरीक्षण का क्रम जारी रखे समय समय पर उनके द्वारा भी निरीक्षण कार्य किया जायेगा। जनपद के समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्राथमिक स्वास्थ्य एवं संयुक्त जिला अस्पताल में साफ सफाई व्यवस्था बेहतर बना रहे इसके लिए केन्द्र प्रभारी निरीक्षण करते रहे।
स्वच्छता में किसी प्रकार की कमी नही होनी चाहिए। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने कहा कि चिकित्सको की कमी होने के कारण जनता को स्वास्थ्य सेवा नही दिये जाने के बाद लगातार प्रकाश में आ रहा है लेकिन इस व्यवस्था में भी सभी चिकित्साधिकारियो एवं चिकित्सको के सहयोग से उक्त समस्या का निदान किया जा सकता है। किसी बीमार व्यक्ति का इलाज करना एक धार्मिक कार्य भी है इसलिए स्वास्थ्य सेवा दिये जाने में लापरवाही न बरते। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक की समीक्षा करते हुए उन्होने कहा कि शासन द्वारा प्राप्त धनराशि खर्च नही किया जा रहा है। जो बहुत ही गलत है। उन्होने लापरवाही पाये जाने पर बघौली पर तैनात संविदा कम्प्यूटर आपरेटर की सेवा समाप्त करते हुए दर्जनो कम्प्यूटर आपरेटरो कारण बताओ नोटिस जारी किये जाने का निर्देश दिया है।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 ए0पी0 श्रीवास्तव, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 कपिलमुनि मिश्रा, डा0 एस0 रहमान, सीएमएस डा0 गिरीश चन्द्र श्रीवास्तव सहित समस्त सीएचसी, पीएचसी के प्रभारी उपस्थित रहे। इसी क्रम में जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आगामी 1 जुलाई से एक सप्ताह तक जनपद में पौधारोपण कार्यक्रम शासन की मंशा के अनुरूप सम्पन्न कराये जाने के उद्देश्य से जिला वृक्षारोपण समिति की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने कहा कि जनपद में 5 लाख पौधारोपण का लक्ष्य है। इस लक्ष्य को पूरा करने में स्वास्थ्य, उद्यान विभाग, सिंचाई विभाग, शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा सहित विभिन्न विभागो का सहयोग लिया जा रहा है। उन्होने कहा कि वृक्षारोपण अभियान को महाअभियान में बदलना है। इस विशेष अभियान को सफल बनाने के लिए जनपद के तीनो तहसीलो से प्रतिदिन प्रभातफेरी निकाल कर जनजागरूकता किया जाय। इसके अलावा रोटरी क्लब, व्यापार मण्डल सहित समाजसेवी एवं सभ्रान्त नागरिको का भी सहयोग किये जाने की अपेक्षा की गयी है। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने जनपद के 44 पेट्रोल पम्प के मालिको से अपेक्षा किया है कि इस महाअभियान को सफल बनाने में अपना योगदान देते हुए वे एक हजार पौधा समस्त पेट्रोल लेने वाले ग्राहको में वितरित करे तथा उनके माध्यम से वृक्षारोपण केा लिए जागरूक करे। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि उनके द्वारा सार्वजनिक स्थानो पर प्रचार प्रसार कराया जाय। साथ ही साथ 5 जुलाई को जनपद के समस्त परिषदीय एवं माध्यमिक सरकारी एवं अद्र्वसरकारी विद्यालयो में वृक्षारोपण पर बच्चो को शपथ दिलाया जाय। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने कहा कि जनपद के 794 ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान की अध्यक्षता में क्षेत्रीय कर्मचारियो के सहयोग से इस महाअभियान को सफल बनाया जाय। बैठक में डीएफओ के0डी0 सिंह, सीएमओ डा0 ए0पी0 श्रीवास्तव, अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी लाल जी शुक्ला, जिला विद्यालय निरीक्षक शिव कुमार ओझा, बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार, जिला युवा खेल कल्याण अधिकारी विनय कुमार चतुर्वेदी सहित विभिन्न विभागो के विभागाध्यक्ष एवं समाजसेवी उपस्थित रहे। इसी क्रम में जिला शिक्षा परियोजना समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही की अध्यक्षता में आहूत हुई बैठक में बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार द्वारा बैठक एजेण्डा बिनदु को बताया कि 06 से 14 वर्ष के समस्त बच्चों का शतप्रतिशत नामांकन, विद्यालयों में गुणवत्तापरख शिक्षा प्रदान करने के सन्दर्भ में विचार-विमर्श एवं रणनीति, विद्यालयों में नामांकित बच्चों की ट्रैकिंग व उपस्थिति पर चर्चा, विद्यालय में शिक्षणेत्तर गतविधियों को बढवा देने एवं शून्य निवेश से गुणवत्ता बढ़ाने पर चर्चा, निःशुल्क यूनिफार्म एवं निशुल्क पाठ्य पुस्तक के पारदर्शी वितरण पर चर्चा, पुस्तकों की ढुलाई निर्वाचन की दरों पर कराये जाने पर चर्चा, विद्युत, पेयजल तथा शौचालय पर चचा, वन महोत्सव में वृक्षारोपण कार्यक्रम एवं अन्य बिन्दु शामिल है।
जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने जिला शिक्षा परियोजना समिति में उपस्थित समस्त खण्ड शिक्षाधिकारी, जिला समन्वयक को सम्बोधित करते हुए कहा कि नया शिक्षण सत्र प्रारम्भ हो रहा है सभी शिक्षाधिकारी अपने कार्य को सही ढंग से सम्पादित करे शिक्षा गुणवत्ता को बेहतर करने के लिए जनपद के समस्त शिक्षक शिक्षिकाये अपनी अहम भूमिका निभाये उन्होने कहा कि शासन की योजनाओ के तहत बच्चो को दी जाने वाली सुविधाओ में भी किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय। बैठक में समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं जिला समन्वयक उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below