आज की ताजा खबर

मीट विक्रेताओ ने ज्ञापन देकर बकरा व मुर्गा काटने की अनुमति मांगी

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
संतकबीरनगर 30 मार्च, समाजसेवी एवं भारतीय कम्यूनिस्ट के वरिष्ठ नेता कामरेड रूस्तम खाॅ के नेतृत्व में आज जिले के मीट विकेताओ ने जिलाधिकारी से भेट कर ज्ञापन सौपा मीट विक्रेताओ ने जिला प्रशासन से अनुरोध किया है कि बूचड़खाना और स्लाटर हाउस बन्द किये जाने के नाम पर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है वह लोग लाइसेन्स के तहत खलीलाबाद शहर के नगर पालिका क्षेत्र अन्तर्गत नगर पालिका द्वारा अधिकृत एरिया में बकरा व मुर्गा का गोश्त बेचकर परिवार का जीविकोपार्जन करते है शासन द्वारा नए आदेश के कारण वह लोग दहशत में है और सही मार्ग दर्शन देने के लिए नगर पालिका पशु विभाग तथा अन्य कोई भी अधिकारी बताने को तैयार नही है अन्य कई बिन्दुओ को लेकर मीट विक्रेताओ ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपकर शीघ्र अतिशीघ्र उनके समस्याओ का निस्तारण किये जाने की मांग की है। उत्तर प्रदेश में नाजायज बूचड़खाने के नाम पर हो रही कार्यवाही के क्रम में जनपद संतकबीरगर में मुर्गा, बकरा, मछली विक्रेताओ को तरह-तरह से परेशान किया जा रहा है चाहे ग्रामीण/शहरी क्षेत्र में उत्तर प्रदेश सरकार के दमनकारी निति के क्रम में अफसर शाही व प्रशासन के द्वारा पूरे जनपद में हम विक्रेताओ को तरह-तरह से परेशान किया जा रहा है जिसके विरोध में हम सभी विक्रेता प्रदेश भर के मीट विक्रेताओ के पक्ष में हड़ताल पर चले गए है।
जनपद संतकबीरनगर के तीनो नगर पंचायत में कही पर भी बूचड़खाना नही बनाया गया है न कही किसी भी ग्रामीण क्षेत्र में जिला पंचायत के द्वारा भी पूरे जनपद में कोई बुचड़खाना नही है। जनपद संतकबीरनगर के मात्र एक नगर पालिका खलीलाबाद में नगरपालिका के बूचड़खाना बनाया गया है जो सभी सुविधाओ के अभाव में है और विक्रेताओ के पास नगर पालिका के द्वारा लाइसेस दिए गए है काटबंाट विभाग व खादय विभाग द्वारा भी अनुमती दी गई है। इसके बावजूद भी प्रशासन/अफसरो के द्वारा भी तरह-तरह के नियम बताए जा रहे है जिसका पालन करना पूरे जनपद भर के विक्रेताओ के लिए असम्भव हैं पूर्व की भांति जो सुविधाए उपलब्ध है इन सुविधाओ में ही सलाटर हाउस चल सकते है। यदि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नगर पालिका, नगर पंचायत, जिला पंचायत सुविधाए उपलब्ध करवाती है तो शासन के द्वारा लाए गए कानून का पालन किया जाएगा।
जब तक सुविधाए नही उपलब्ध नही हो पाती है तब तक पूर्व की भांति चलने दिया जाए इस बात को व्यक्त करते हुए मीट विक्रेता मो0 असलम, मो0 अकरम, सब्बीर अहमद, रमजान अली, अब्दुल कादिर, अब्दुल रउफ, सगीर अहमद, महबूब आलम, अब्दुल करीम, साबिर अली आदि ने व्यक्त किया। सगीर अहमद, मो0 अकरम, मो0 हयात, शब्बीर अहमद, अब्दुल रउफ, मो0 महबूब, मो0 इरसाद, मो0 तारीक, आफताब हुसैन, फिदा हुसैन, रमजान अली, असगर अली, निजामुद्दीन, अख्तर हुसैन, अब्दुल कादिर, मु0 असलम, भोला, अतुल हसन, मो0 सलीम, मो0 कलीम, अजाहरूद्दीन, सददाम हुसैन, हैदर अली आदि लोग उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below