आज की ताजा खबर

महिला की हत्या मुकदमा दर्ज

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
शोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर) 6 मार्च, जिसके खातिर उसने अपने माँ-बाप का घर छोड़ उसके साथ 12 वर्ष बिता दिये उसी पति ने अपनी पत्नी की चाकू गोदकर बेरहमी से हत्या कर दी, उसे अपनी जीवन संगिनी पर दया भी नहीं आयी जिसने उसके साथ जीवन जीने का वायदा किया था। इस घटना ने पति-पत्नी के रिश्ते को शर्मसार कर दिया।
शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बगहवा के टोला मधवापुर मंे कय्यूम ने अपनी 29 वर्षीय पत्नी सालिहा की सुबह लगभग 7 बजे अपने घर के बाहर चाकू गोदकर निर्मम हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया है। मौके पर पहुँची पुलिस ने मृतका का पंचनामा कर लाश को पी0एम0 के लिए भेज दिया। कयूम के घर के पास कब्रिस्तान की बाउन्ड्री के अन्दर से पुलिस ने घटना को अंजाम देने में प्रयुक्त चाकू बरामद किया है। मौके पर पहुँची पुलिस ने लाश को पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के चाचा दीनुलहसन की तहरीर पर पुलिस ने मृतका के पति कयूूूम व ससुर जैशमोहम्मद के बिरूद्ध धारा 302 के तहत एफ0आई0आर0 दर्ज कर आगे की कार्यवाही में पुलिस जुट गयी है।
बतातें चले कि मृतका का चिल्हिया थाना क्षेत्र अन्र्तगत ग्राम पंचायत अहिरौली में मायका था, उसके माता-पिता की भी मृत्यु हो चुकी है, और उसकी शादी 12 वर्ष पूर्व मधवापुर के कयूम से बताई जा रही है। जिनसे 5 बच्चें भी है। पांचों बच्चों का नाम क्रमशः जमील 10 वर्ष, मुस्कान 9 वर्ष, शकील 6 वर्ष, पापा 4 वर्ष, चांदनी 9 माह है।
ग्रामीणों की माने तो एक माह पूर्व से मृतका की अपने पति से नहीं पटती थी, जिसकी जानकारी शोहरतगढ़ पुलिस को भी थी, घटना की पूर्व संध्या पर शोहरतगढ़ पुलिस ने कार्यवाही के नाम पर मृतका को घर भेज दिया, जिससे नाराज पति ने बड़ी बेराहमी से हत्या कर दी। मृतका की हत्या के बाद गांव में भय का महौल है। हालाकि यह भी चर्चा में आया थी इस घटना के पीछे हवा देने का काम उसकी सास सलीमन का है, उसका पूरे घर पर चलती थी, जो भी वह कहती पति और लड़के कर देते थे। मृतका की बहन गौसिया पत्नी जाबिर अली की माने तों सास सलीमन का साथ उसके 7 लड़कों में 3 लड़के जो मुम्बई में रहते हैं वह भी इस साजिश में हवा दिये है, जिससे पति का मनोबल और बढ़ गया, और घटना कारित हो गयी।
मृतका की बहन गौसिया जिसकी शादी उसी गांव में हुई है, उसने बताया कि उसके जीजा का एक माह से व्यौहार ठीक नहीं था, बच्चों को उसने अपने पास रखकर पत्नी को भगा दिया, जिससे वह अपने मायके अहिरौली चली गयी थी। घटना की सूचना पर उसके चाची हसबुन्निशा और चाचा दीनुलहसन उर्फ सिक्का आये और पति तथा ससुर के विरूद्ध थाने पर तहरीर दी।
उक्त प्रकरण पर सी0ओ0 शोहरतगढ़ शिवसिंह ने कहा कि मृतका की निर्मम हत्या हुई है, इसके लिए टीम गठित कर दी गयी है शीघ्र आरोपियों की गिरफ्तारी कर दी जायेगी, दोषियों को किसी भी हालत में नहीं छोड़ा जायेगा।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below