आज की ताजा खबर

महिलाओं की नसबन्दी अव्यवस्था में हुई

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा )
सिद्धार्थनगर 9 फरवरी, परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत इन दिनों शासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले के विभिन्न सीएचसी, पीएचसी केन्द्रो पर अलग-अलग तिथियांे में महिलाओं के बांध्याकरण के कार्यक्रम संचालित किये जा रहे है। मगर चिंतनीय एवं सोचनीय बात यह है कि महिलाओं के नसबन्दी अव्यवस्थाओं के बीच सम्पन्न किये जा रहे है। जिससे ऐसी संभावनाएं बनी रहती है कि उनका जीवन खतरे में भी पढ सकता है। जिसका मिसाल जिले के बर्डपुर विकास खण्ड में स्थित पीएचसी बर्डपुर में देखने केा मिला। जहां महिलाओं की नसबन्दी तो कर दी गयी मगर उनकी देखभाल एवं चिकित्सीय उपचार में बदइंतजामी का नजारा दिखां।
मिली जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग के तयशुदा कार्यक्रम के अनुसार 8 फरवरी को पहले चरण में महिलाओं की नसबन्दी किसे जाने का शिविर आयेजित किया गया था।
जिसमे विभिन्न गांवो से कुल 17 महिलों ने नसबन्दी के लिए रजिस्टेªशन करवाया था किन्तु मौके पर 14 महिलाएं ही पहुुची। जिसमें सुशाीला, पत्नी बलराम, सावित्री पत्नी संजय, गायत्री देवी पत्नी पत्थर, शफीकुन्निशा पत्नी मुस्तकीम, सविता पत्नी कृष्ण कुमार, इसरावती पत्नी रमेश सहित 14 महिलाओ का नसबन्दी का कार्य डा0 रोचसमती पाण्डेय द्वारा सम्पन्न किया गया। मगर अव्यवस्था का आलम यह रहा कि नसबन्दी कराये जाने के बाद उन महिलाओं को आराम रने के लिए न तो बेड रहे और न ही चद्दरें।
जब संवाददाता इस बावत समाचार संकलन करने पीएचसी पहुंचा तो आनन फानन में कुछ चारपाइयां मंगाकर बिना बिस्तर बिछाये ही उन पर पीडित महिलाओं को लिटा दिया गया। जिसमें से अधिकांश महिलाएं पीडा व दर्द से कराहती हुई मिली। यहां बताते चले कि देश कि विभिन्न भागों में इस तरह की घटनाएं आती है कि नसबन्दी व आपरेशन करने के बाद उचित चिकित्सीय सुविधाएं एवं आराम के अभाव में तमाम महिलाओं के दम तोड़ दिये जाने की समाचार प्रकाश में आते रहतें है।
जानकारो का कहना है कि नसबन्दी कराने के एवज में सरकार द्वारा दिये जाने वाले प्रोत्साहन आर्थिक धनराशि भी पूरी तरीके से इन लाभार्थियों को नही मिल पाता है । वह विभागीय अधिकारियों के कमीशन की भेेंट चढ जाता है। इसी कारण नमाम लोग परिवार नियोजन के प्रति उत्साहित नही दिखतें ।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below