आज की ताजा खबर

बौद्ध परिपथ गडढो मे तबदील कोई पुरसाहाल नही

जब बौद्ध परिपथ का चयन नेशनल हाईवे

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बढ़नी (सिद्धार्थनगर) 13 जनवरी , बौद्ध परिपथ की खराब हालत राहियों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है।कई आंदोलन व विरोध प्रदर्शन होने के बाद भी नेशनल हाईवे के अधिकारियों पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है।आने वाले बारिश के मौसम में नेशनल हाईवे की सम्भावित हालत को सोच कर आवागमन करने वाले राहियों की रूह काँप जा रही है।क्षेत्रवासियों ने जिलाधिकारी से नौगढ़-गोरखपुर मार्ग की तरह परसा से मलगहिया तक बौद्ध परिपथ पर विभाग से सख्त रवैया अपनाने की माँग किया है।
पिछले दिनों हिन्दु युवा वाहिनी व समाजवादी पार्टी ने बौद्ध परिपथ की खराब हालत को लेकर विभाग की उदासीनता के विरोध में पदयात्रा व चक्काजाम जैसे आंदोलनों को किया।लेकिन लोगों के मुताबिक चुनावी वर्ष में लगातार दो दिनों में दोनों संगठनों के द्वारा किये गये विरोध प्रदर्शन को ढ़कोसला करार दिया है।क्षेत्रीय लोगों के अनुसार आखिर दोनों संगठनों की केन्द्र व प्रदेश में सरकारें हैं फिर इन लोगों द्वारा किये जा रहे विरोध प्रदर्शन कहाँ तक वास्तविक हैं।पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा तीन वर्षों से इस महत्वपूर्ण मार्ग की देखरेख न होने के कारण स्थिति बहुत खराब हो गयी और लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व यह बौद्ध परिपथ नेशनल हाईवे के रुप में परिवर्तित हो गया।इसके बाद नेशनल हाईवे विभाग के द्वारा इन डेढ़ वर्षों में जनता द्वारा किये मार्ग की मरम्मत की माँग के बावजूद परसा से मलगहिया तक कोई भी कार्य नहीं किया गया।आने वाले बारिश के मौसम में इस जर्जर मार्ग पर चलना जानलेवा साबित होगा।
इस संबंध में युवा बसपा नेता संतोष पासवान का कहना है कि जब केन्द्र में भाजपा और प्रदेश में सपा की सरकार है लेकिन हियुवा और सपा के द्वारा गत दिनों हुए विरोध-प्रदर्शन केवल जनता के साथ धोखा है।अगर इन दोनों दलों के नेता प्रयास करें तो मार्ग की मरम्मत कठिन चीज नहीं है।
इस बारे में कांग्रेस के बढ़नी ब्लाक अध्यक्ष भानदत्त शुक्ल का कहना है कि फरेन्दा-नौगढ़-शोहरतगढ़-बढ़नी मार्ग पर सफर करना जानलेवा साबित हो रहा है।गौहनिया से परसा तक के मार्ग को किसी प्रकार कुछ हद तक ठीक कर दिया गया परन्तु परसा से ढ़ेबरुआ,बढ़नी होकर मलगहिया तक के मार्ग की दुर्दशा समस्त अधिकारी व जनप्रतिनिधियों से छिपी नहीं है।
इस संबंध में हिन्दु युवा वाहिनी के जिला महामंत्री अजय सिंह ने कहा कि बौद्ध परिपथ की मरम्मत के लिए आया धन कहाँ गया।इसका जबाब सपा को आगामी विधानसभा के चुनाव में जनता को देना होगा।अगर जल्द ही सड़कों की मरम्मत का कार्य प्रारम्भ नहीं हुआ तो उसके बाद भ्रष्टाचार के खिलाफ एक जबरदस्त आंदोलन किया जायेगा।
इस बारे में समाजवादी पार्टी के शोहरतगढ़ विधानसभा अध्यक्ष हरिनरायन यादव ने कहा कि हियुवा और भाजपा के नेताओं के द्वारा खराब सड़क की मरम्मत के लिए आंदोलन करना जनता के साथ मजाक करने जैसा है।जब बौद्ध परिपथ का चयन नेशनल हाईवे के रुप में हो गया है तो सबको जानकारी है कि नेशनल हाईवे केन्द्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में है राज्य सरकार के नहीं।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below