आज की ताजा खबर

बोर्ड परीक्षा नकल विहीन कराया जायेगा

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
संतकबीरनगर 4 फरवरी, माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित बोर्ड परीक्षा 2018, 6 फरवरी से जनपद में हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट की परीक्षा जनपद के 103 परीक्षा केन्द्रो पर प्रारम्भ होगी। बोर्ड परीक्षा को नकल विहीन कराये जाने के लिए जिला प्रशासन को शासन से निर्देश प्राप्त है। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही गत दिनो लगातार जिला विद्यालय निरीक्षक शिव कुमार ओझा के साथ बोर्ड परीक्षा केन्द्र के केन्द्र व्यवस्थापको के साथ बैठक कर बोर्ड परीक्षा कराये जाने के लिए बनाये गये नियमो का अक्षरश पालन करने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से कहा है कि किसी भी दशा में नकल नही होगा।
जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने बोर्ड परीक्षा नही होने के लिए मास्टर प्लान तैयार कर लिया है। सूत्रो के अनुसार जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने गत 5 वर्षो में जनपद में हुए बोर्ड परीक्षा केन्द्रो के अभिलेखो को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से मंगाकर गतविधियो को देखा है। उस दौरान किन-किन बोर्ड परीक्षा केन्द्रो पर जमकर नकल हुई और किन परीक्षा केन्द्रो को डिबार किया गया। किन परीक्षा केन्द्रो पर सामूहिक नकल की शिकायत प्राप्त हुई और जाॅच में सत्यापन हुआ। ऐसे परीक्षा केन्द्रो को यदि इस बार बोर्ड परीक्षा में परीक्षा केन्द्र बनाये गये है तो उन केन्द्रो पर जिला प्रशासन की विशेष नजर होगी। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही के विश्वसनीय अधिकारियो द्वारा बोर्ड परीक्षा केन्द्रो पर गोपनीय तरीके से निगरानी की जायेगी। साथ ही जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही बोर्ड परीक्षा शुरूआत के प्रथम दिन से ही परीक्षा केन्द्रो पर औचक छापेमारी स्वंय करेंगे।
इस बार बोर्ड परीक्षा में परीक्षार्थियो ने नकल नही करने का मन बनाया है और लगातार पाठ्य क्रम को अध्ययन कर रहे है लेकिन जिन परीक्षा केन्द्रो पर नकल होने की सम्भावना है उन परीक्षा केन्द्रो पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन तैयार है। सूत्रो के अनुसार जिला प्रशासन ने विभिन्न राजनैतिक दलो के परीक्षा केन्द्रो पर भी पैनी नजर बनाये रखा हुआ है।
पिछली सरकार में विभिन्न राजनैतिक दलो के विद्यालयो के बनाये गये परीक्षा केन्द्रो पर नकल की शिकायत के अभिलेख को भी जिला प्रशासन से खंगाल कर सूची तैयार कर लिया है। शासन के निर्देश के क्रम में जिला प्रशासन ने सभी बोर्ड परीक्षा केन्द्रो के मुख्य गेट एवं परीक्षा कक्ष में सीसीटीवी कैमरा लगवाया है। जिला विद्यालय निरीक्षक शिव कुमार ओझा ने बताया कि बोर्ड परीक्षा आरम्भ होने की तिथि-06.02.2018 से 12.03.2018 परीक्षा केन्द्रों की संख्या-103 ( खलीलाबाद-37, मेंहदावल-24, धनघटा-42) जिनमें राजकीय-02, अशासकीय सहायता प्राप्त-30, वित्त विहीन -71, संवेदनशील परीक्षा केन्द्र- 14, अतिरिक्त बाहय केन्द्र व्यवस्थापक- 103, स्टेटिक मजिस्टेªट- 70, सेक्टर मजिस्टेªट-21, जोनल मजिस्ट्रेट- 03, वरिष्ठ प्रभारी – 03, सचल दल – 04, परीक्षार्थियों की संख्या-हाईस्कूल 40692 (संस्थागत-39144 व्यक्तिगत 1548) इण्टरमीडिएट-29874 (संस्थागत-28049 व्यक्तिगत 1825) कुल 70566। उन्होने बताया कि परीक्षा प्रश्नपत्र खोलने, लिखित उत्तर पुस्तिकाओं को शील करने तथा समस्त परीक्षा सी0सी0टी0वी0 कैमरे की निगरानी में होगी। किसी भी समय सी0सी0टी0वी फुटेज की जाॅच की जा सकती है। परीक्षा अवधि में विद्यालय के प्रबन्धतंत्र से सम्बन्धित व्यक्ति केन्द्र पर नही जा सकेंगे। जिला विद्यालय निरीक्षक शिव कुमार ओझा ने बताया कि परीक्षार्थियों के प्रवेश के समय ही गेट पर परीक्षार्थियों की तलाशी के उपरान्त ही परिसर में प्रवेश दिया जायेगा। बालिकाओं की तलाशी महिला अध्यापिकाओं द्वारा ली जायेगी तथा उनकी निजता का ध्यान दिया जायेगा। परीक्षा अवधि में मुख्य प्रवेश द्वारा को छोडकर अतिरिक्त सभी प्रवेश द्वारा बंद रहेंगे।
किसी परीक्षा कक्ष में अधिकांश परीक्षार्थियों के उत्तर में समानता मिलने पर सामूहिक नकल माना जायेगा इसके लिए कक्ष निरीक्षक उत्तरदायी होंगे। कई कमरों में सामूहिक नकल पाये जाने पर केन्द्र व्यवस्थापक उत्तरदायी होंगे। इस स्थिति में पुनः परीक्षा के साथ विद्यालय की मान्यता प्रत्याहरण की संस्तुति की जायेगी। उन्होने बताया कि परीक्षा में किसी भी प्रकार की नकल समाग्री प्राप्त होने पर सम्बन्धित कक्षनिरीक्षक, केन्द्रव्यवस्थापक, अतिरिक्त केन्द्र व्यवस्थापक व सचलदल प्रभारी जिम्मेदार होंगे और उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। परीक्षार्थियों को विद्यालयों द्वारा प्रवेश पत्र वितरित किये जा रहे है। प्रवेश पत्र निःशुल्क देय है। यदि किसी विद्यालय द्वारा प्रवेश पत्र के नाम पर परीक्षार्थियों से किसी प्रकार की वसूली की सूचना प्राप्त होने पर और पुष्टि होने पर सम्बन्धित प्रधानाचार्य के विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज करायी जायेगी। जिन शिक्षकों की ड्यूटी कक्षनिरीक्षक के रूप में किसी केन्द्र पर लगी है प्रबन्धक, प्रधानाचार्य उन्हें तत्कालन मुक्त कर दे और सम्बन्धित शिक्षक निर्धारित परीक्षा केन्द्र पर अपनी उपस्थिति की सूचना अनिवार्य रूप से दिनांक 05.02.2018 को 11ः00 बजे तक दें। शिक्षकों को मुक्त न करना परीक्षा कार्य में असहयोग माना जायेगा और सम्बन्धित प्रधानाचार्य, प्रबन्धक के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। परीक्षा ड्यूटी शिक्षकों की सेवा का अंग माना गया है इसमें हीला हवाली करने पर सम्बन्धित शिक्षक को सेवा से अनुपस्थित मानते हुए उसके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। गम्भीर बिमारी का कारण बताकर परीक्षा कार्य से मुक्त रखने का अनुरोध करने वाले प्रधानाचार्यो, शिक्षकों एवं कर्मचारियों को मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा निर्गत प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।
उन्होने बताया कि कक्षनिरीक्षकों को परिचय पत्र के साथ आधार कार्ड रखना अनिवार्य है। परीक्षा केन्द्र पर कार्यरत शिक्षकों एवं कर्मचारियों को केन्द्र मोबाईल रखने की अनुमति नही होगी। यदि कोई शिक्षक अथवा कर्मचारी मोबाईल लेकर केन्द्र पर पहुॅच जाता है तो सम्बन्धित केन्द्र व्यवस्थापक उसे सुरक्षित रखने की व्यवस्था करंेगे। जिला विद्यालय निरीक्षक शिव कुमार ओझा ने बताया कि बोर्ड परीक्षा सकुशल सम्पन्न कराये जाने के लिए जिला प्रशासन के निर्देशन में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसका मोबाइल नम्बर-9452262907 है।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below