आज की ताजा खबर

बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओं शुरू हुआ अभियान

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
अयोध्या 17 दिसम्बर, राजकीय बालिका इण्टर कालेज प्रांगण मेें बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान गोष्ठी में जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने अपने सम्बोधन ने कहा कि बेटी-बेटा में कोई भेद नही, साथ-साथ रहना-साथ-साथ पढ़ना। उन्होनंे कहा कि जिस परिवार में भाई-बहन दोनो होते है वहां अधिक रौनक व खुशी होती है, वनस्पति जिस घर में केवल भाई-भाई है। उन्होनें कहा कि बेटे से ज्यादा बेटी माता-पिता की सेवा करती है वे सुदूर अपने ससुराल में रहते हुए भी अपने बाबू-अम्मा का हाल चाल होती रहती और उनके कुशहाल जिन्दगी की सदैव कामना करती हैं।
महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने कहा कि जिसकी पहली सन्तान बेटी हुई उस परिवार की प्रगति काफी तेजी से होती है और वह परिवार खुशहाल भी है ऐसा उन्होनें 200 परिवारों पर शोध के पश्चात् दावा किया है। उन्होनंे कहा कि उनकी भी पहली संतान बेटी है। भारत को बडे़ सम्मान के साथ भारत माता कह कर हम सभी पुकारते है। नारी का सम्मान प्रतिष्ठ हमारे यहां युगो-युगो से होता आया है।
भाजपा जिला अध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, पर्यावरण आदि सामाजिक विमर्श के विषय रहे है जिसे हमारी सरकार ने उसे राजनैतिक विमर्श के विषय बनाकर व्यापक जनाधार दिया है जहां पर स्त्री का निवास होता है वहीं देवी देवता का वास होता है ऐसी मान्यता युगो से चली आ रही और यह सत्य है।
सांसद प्रतिनिधि ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि समाज मे लिंग भेद को लेकर जो विकृति पैदा हुई थी उसे मिटाने मेें हम सभी कामयाब रहे है लोगों के अन्दर जागरूकता आई है इसे और धार देने में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ रैली व गोष्ठी सहायक होगी।
कार्यक्रम स्थल पर महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, भाजपा जिला अध्यक्ष अवधेश पाण्डे उर्फ बादल, महानगर अध्यक्ष कमलेश श्रीवास्तव, सांसद प्रतिनिधि ओम प्रकाश सिंह, एसएसपी जोगेन्द्र सिंह, सीडीओ अभिषेक आनन्द, बीएसए श्रीमती अमिता सिंह, डीआईओएस राज बहादुर सिंह चैहान, जिला प्रोवेशन अधिकारी विकास सिंह, राजकीय बालिका इण्टर कालेज की प्रधानाचार्य सुरेन्द्र लता व जीजीआईसी की अध्यापिकाएं उपस्थित थी।
महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, भाजपा जिला अध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल, जिलाध्किारी डा0 अनिल कुमार ने बेटी बचाओ की अलख अनवरत गूंजती रहे, के लिए मशाल जलाकर बेटियों को सौंपा।
राजकीय बालिका इण्टर कालेज सहित अन्य विद्यालयों की छात्राओं ने लगभग 2 कि0मी0 लम्बी रैली राजकीय बालिका इण्टर कालेज से निकालकर तहसील सदर होते हुए गांधी पार्क-रिकाबगंज चैराहा कसाबबाड़ा, राजकीय इण्टर कालेज, पुलिस लाइन, सिविल लाइन होते हुए वापस राजकीय बालिका इण्टर कालेज में समाप्त हुई। रैली को सभी ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
गोष्ठी में क्षेत्र की बेटी एवं नारी का हुआ सम्मान, एन0सी0सी0, शिक्षा, पुलिस, ग्रामप्रधान, खण्ड प्रेरक, स्वच्छता समिति, सफाईकर्मी सहित अन्य क्षेत्रो में बेहतर कार्य प्रदर्शनी करने वाली महिलाओं एवं छात्राओं को मेडल, प्रशक्ति पत्र देकर किया गया सम्मान।
जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने दिलाई शपथ ‘‘ मैं, भारत का नागरिक, आज यह शपथ लेताध्लेती हूँ मैं लिंग भेद और लिंग चयन जो कि बालिकाओं के जन्म एवं उनके अस्तित्व को जोखिम में डालता है, उस मानसिकता का त्याग करूँगाध्करूँगी। जिससे ये सुनिश्चित हो कि लड़कियाँ जन्म लें, उन्हें समान प्यार व शिक्षा मिले और देश का सशक्त नागरिक बनने का समान अवसर मिले।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below