आज की ताजा खबर

बच्चों के प्रगति पर स्कूल और अभिभावक निरन्तर ध्यान दें-मारकण्डेय शाही

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
संतकबीरनगर 18 फरवरी, सूर्या इण्टरनेशनल सीनियर सेकेन्ड्री स्कूल के प्रांगण में छठवें ‘‘वार्षिकोत्सव समारोह’’ का भव्य आयोजन किया गया। जिसमें कक्षा प्लेवे से लेकर कक्षा 12वीं तक छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक मंच से शानदार प्रस्तुति कर दर्शकों का मनमोह लिया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि जिलाधिकारी मारकण्डेय शाही व विशिष्टि अतिथि सदर विधायक दिग्विजय नारायण चतुर्वेदी ने माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन करके किया। अतिथियों मे मुख्य रूप से दि0द0उ0 गोरखपुर के प्रोफेसर के0एन0सिंह, प्रोफेसर एस0पी0एम0 त्रिपाठी, सुर्या परिवार के मुखिया पं0 सूर्य नारायण चतुर्वेदी व एस0आर0 इण्टरनेशनल एकेडमी के प्रबन्ध निदेशक राकेश चतुर्वेदी ने उपस्थित रहकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया। अतिथियों का स्वागत व माल्यार्पण विद्यालय के प्रबन्ध निदेशक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी व विद्यालय के अन्य पदाधिकारियों द्वारा शाल, बूके व बैच लगाकर किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत माॅ सरस्वती की वन्दना से हुई और कार्यक्रम का समापन होली गीत के साथ हुआ। कार्यक्रम के दौरान भारत के विभिन्न राज्यो के लोकनृत्य प्रस्तुत कर बच्चों दर्शकों को मन्त्रमुग्ध कर दिया जिसमे प्रमुख रूप से डाण्डिया, बीहू,व भांगड़ा को अत्यधिक सराहना मिली। पौराणिक कथाओं पर आर्धारित नाटक नरसिंह अवतार व शिवसती प्रस्तुत कर बच्चों ने दर्शकों का दिल जीत लिया। प्लेवे के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रम स्वागत गीत, माता-पिता व कौव्वाली को देख दर्शक तालियां बजाने को मजबूर हो गये। हास्य नाटिका मकान मालिक ने लोगो का खूब हसाया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी ने विद्यालय प्रबन्धन की जमकर सराहना करते हुए कहा कि जिस तरह से इन बच्चों को तराशा गया है उससे विद्यालय परिवार के शिक्षक-शिक्षिकाएं व अन्य लोग की बहुआयामी सोच का पता चलता है बच्चों के द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम उनके बहुमुखी प्रतिभा को प्रदर्शित करते है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अपने सम्बोधन में दिग्विजय नारायण चतुर्वेदी ने कहा कि भारत भूमि के विशिष्टता एवं भारत भूमि की मिट्टी को नमन करते हुए कहा कि यह धरा अनेक रत्नो से भरी पड़ी है जिसको तरासने का कार्य विद्यालय के शिक्षक एवं शिक्षिका पूरे मनोयोग से कर रहें है। हमे विश्वास है कि इस विद्यालय के बच्चें अनुशासित होकर भविष्य में नई ऊचाइयों को छुयेंगें। प्रोफेसर के0एन0 सिंह व प्रोफेसर एस0पी0एम0 त्रिपाठी ने अपने सम्बोधन में विद्यालय प्रबन्धन की सराहना करते हुए कहा कि शिक्षा ही मात्र एक माध्यम है जिससे न केवल परिवार बल्कि समाज के साथ राष्ट्र का भी विकास होता है। इसी क्रम में अपने सम्बोधन मे विद्यालय के प्रबन्ध निदेशक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी ने कहा कि शिक्षक ही विद्यार्थियों के माध्यम से समाज को नई दिशा देता है और प्रबन्धतंत्र अपने शिक्षकगणों के साथ इन बच्चों के भविष्य को नई ऊॅचाइयों तक ले जाने के लिए संकल्पित है कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विद्यालय की प्रबन्ध निदेशिका श्रीमती सविता चतुर्वेदी ने कहा कि विगत पाॅच सालों अभिभावकों के सहयोग एवं शिक्षकों के समर्पण से यह विद्यालय अपने जनपद ही नही बल्कि मण्डल स्तर पर अपनी पहचान कायम कर चुका है जो भविष्य में प्रदेश स्तर पर भी अपनी पहचान बनाने मे सफल होगा। साथ ही साथ विद्यालय के प्रधानाचार्य रविनेश श्रीवास्तव नें आये हुए अतिथियों व भारी संख्या में उपस्थित अभिभावकों का आभार व्यक्त करते हुए उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम का सफल संचालन विद्यालय के उपप्रधानाचार्य शरद त्रिपाटी व वरिष्ट शिक्षक प्रशान्त पाण्डेय शिक्षिका नाजिया खातूच व बबिता त्रिपाठी ने किया।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक क्रमषः अजय शुक्ला, अशोक चैबे, अवधेश चतुर्वेदी, बृजेश गुप्ता, कृष्णचन्द्र यादव, नितेश, अफीफा खानम, नाजिया खातून, कैलाश, राघवेन्द्र प्रताप सिंह, अखिलेश शुक्ला, व आफिस स्टाफ क्रमशः विजय पाण्डेय, आशुतोष पाण्डेय, बलराम यादव, अजय शर्मा, दिनेश श्रीवास्तव, राहुल श्रीवास्तव इत्यादि लोगों का विशेष सहयोग रहा।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below