आज की ताजा खबर

प्रदेश सरकार सबका साथ सबका विकास हेतु काम कर रही है-चेतन चैहान

आलोक कुमार श्रीवास्तव
विचारपरक संवाददाता
सिद्धार्थनगर 29 मार्च, प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सबका साथ सबका विकास को लक्ष्य मानकर काम कर रही है। प्रदेशभर में विकास के कार्य तेजी से संचालित किया जा रहा है। अब बिना भेद भाव के विकास योजनाएं संचालित की जा रही है।
आज यह विचार जिले के प्रभारी एवं प्रदेश सरकार के मंत्री खेलकूद युवा कल्याण कौशल विकास एवं व्यवसायिक शिक्षा मंत्री चेतन चैहान ने यह विचार पत्रकारों से बात चीत में व्यक्त करते हुए कहा कि ‘‘एक साल नई मिसाल’’ उत्तर प्रदेश सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर प्रदेश सरकार की नीतियो, जन कल्याणकारी योजनाओं एवं उपलब्धियों की जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्ग के लोगों के उत्थान और विकास के लिए काम कर रही है।
उन्होंने एक वर्ष में जिले में हुये विकास कार्यों का व्योरा देते हुए बताया है कि फसल ऋण मोचन योजना के अन्तर्गत 38762 किसानों का 2.58 करोड़ रु0 फसली ऋण माफ करते हुये उन्हे प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया गया। बच्चों के पूर्ण प्रतिरक्षण एवं प्रसव सम्बन्धित समस्त जांचो हेतु गर्भवती महिलाओं को दी गयी सेवाओं की उपलब्धि माह अगस्त 2017 तक काफी कम थी जिसमें सुधार करते हुये बच्चों का पूर्ण प्रतिरक्षण 37 प्रतिशत से बढ़ाकर माह फरवरी, 2018 तक 73 प्रतिषत किया गया। भारत सरकार द्वारा संचालित कायाकल्प एवार्ड स्कीम में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, खुनियांव स्वास्थ्य मानकों एव गुणवत्तापरक स्वास्थ्य सेवाओं में जनपद में प्रथम स्थान आयोजित किया है, जिसके तहत इण्टरनल एवं पीस असेसमेन्ट क्वालीफाई कर एक्सटर्नल का कार्य पूर्ण कर पुरस्कार हेतु राज्य स्तर पर प्रेषित किया जा चुका है। सघन मिषन इन्द्रधनुष कार्यक्रम के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में जनपद द्वारा तीनों चरणों में गुणात्मक सुधार करते हुये उपलब्धि अर्जित कर प्रदेश में प्रथम स्थान अर्जित किया गया। गर्भवती महिलाओं एवं बच्चो को दी गयी स्वास्थ्य सेवाओं की ट्रैकिंग भारत सरकार द्वारा संचालित एम0सी0टी0एस0 पोर्टल पर किया जाता है, जिसकी समीक्षा प्रत्येक माह राज्य स्तर से की जाती है। उपरोक्त कार्यक्रम में जनपद सिद्धार्थनगर 75 जनपदों में विगत वर्षों में 44 वंे स्थान पर था, जो कि माह जनवरी, 2018 में सर्वोच्च उपलब्धि हेतु चिन्हित 10 जनपदों में चैथे स्थान पर है। नव निर्माण 20/132/33 के0वी0 उपकेन्द्र बांसी को उर्जीकृत कर लिया गया है, जिससे पूरे जनपद की विद्युत व्यवस्था बेहतर प्राप्त हो रही है। 12वां दीन दयाल योजनान्तर्गत 60 हजार उपभोक्ताओं को निःशुल्क विद्युत कनेक्षन दिया गया। सौभाग्य योजना के अन्तर्गत विद्युत सामग्री के साथ 8000 उपभोक्ताओं को विद्युत कनेक्शन दिया गया है। इन्वेस्टर समिट 2018 का आयोजन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 21.02.2018 लखनऊ में आयोजित इन्वेस्टर समिट 2018 में इस जनपद के तीन उद्यमियों को मेमोरेण्डम आॅफ अण्डरस्टैन्डिंग (एम0ओ0यू0) जारी किया गया है। ई-पांस मशीन से वितरण: जनपद सिद्धार्थनगर में कुल 06 नगरीय क्षेत्र हैं, जिसमें कुल 49 उचित दर विक्रेता कार्यरत हैं। समस्त उचित दर दुकानों पर ई-पांस मशीन स्थापित है और विक्रेताओं द्वारा ई-पांस मषीनों के माध्यम से नगरीय क्षेत्र के अन्त्योदय अन्य योजना के कुल 6100 कार्डधारकों एवं पात्र गृहस्थी योजना के कुल 17028 कार्डधारकों के मध्य खाद्यान्न आदि का वितरण कराया जा रहा है। माह जुलाई, 2017 से जनपद के नगरीय क्षेत्रों में ई-पांस मशीनों से खाद्यान्न का वितरण प्रारम्भ किया गया है।
उन्होंने बताय है कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: प्रधानमंत्री उज्जवला योजनान्तर्गत जनपद सिद्धार्थनगर में कुल 88725 परिवारों को गैस कनेक्शन दिलाते हुये उक्त योजना का लाभ दिलाया जा रहा है। जनपद की 790 सड़कों लम्बाई 1385 किमी0 को गढ्ढा मुक्त किया गया। माध्यमिक शिक्षा परिषद, उ0प्र0 की हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट बोर्ड परीक्षा 2018 को 70 आंवटित परीक्षा केन्द्रों पर नकल विहीन परीक्षा शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न करायी गयी। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना: इस योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2017-18 में 155 जोड़ों की सामूहिक शादी करायी गयी, जिस पर कुल रु0 54.25 लाख व्यय हुआ है। जनपद में कुल 221 ग्रामों को खुले से शौचमुक्त कराया गया। मनरेगा योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2017-18 में सर्वाधिक 5856011 मानव दिवस के रोजगार सृजन करते हुये 156867 परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराया गया। 49195 कार्यों का जियो टैग कराया गया जो कि विगत वर्ष की तुलना में 10 गुना अधिक है। इसी प्रकार 155028 श्रमिकों का आधार बेस पेमेन्ट कराया जा रहा है जो कि गतवर्ष की तुलना में 03 गुना अधिक है।
उन्होंने बताया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अन्तर्गत 7447 आवासों के सापेक्ष 6660 आवासों को पूर्ण करा लिया गया है जिसकी उपलब्धि 90 प्रतिशत है अवशेष 10 प्रतिशत इसी वित्तीय वर्ष में पूर्ण करा लिया जायेगा।
जनपद प्रभारी चेतन चैहान ने पत्रकारों से बात चीत के दौरान बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिन विभागों के लम्बित प्रकरण है उसे प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण की कार्यवाही सुनिश्चित करें। कौशल विकास योजना के अन्तर्गत उ0प्र0 के बच्चों को रोजगार उपलब्ध कराये जाने के लिए 6 लाख बच्चों का रजिस्ट्रेशन कराया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार सबका साथ सबका विकास का नारा देकर विकास के प्रति सत्त प्रयत्नशील है। मल्टीनेशनल कम्पनियां प्रदेश में आयी है, प्रदेश में 11 नये एयरपोर्ट बनाये जाने की कार्यवाही पूणर््ा हो गयी है।
जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने बताया कि प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षा प्राप्त कर रहे छात्र एवं छात्राओं को निःशुल्क ड्रेस, स्वेटर, जूता-मोजा, व पाठ्य पुस्तकों का वितरण करा दिया गया है। बुद्धा सर्किट के लिए शासन द्वारा 33 करोड़ की धनराशि प्राप्त हुई है। जिसमें थीम पार्क, हेलीपैड, लाइट, साउण्ड, सार्वजनिक शौचालय व अन्य कार्यो में व्यय किया जायेगा। मंत्री ने बताया कि जनपद सिद्धार्थनगर को नीति आयोग में सम्मिलित कर लिया गया है। जनपद में जितने भी पद रिक्त है उसे भरने की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। आवारा पशुओं को सड़को पर न घूमने दिया जाये। उन्होंने कहा कि गाय का पालन-पोषण करके उससे दूध का उत्पादन करे जिससे लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सके। मंत्री ने बताया कि उ0प्र0 सरकार कक्षा 05 के बाद बच्चों को कोई एक नया ट्रेड दिये जाने की कार्यवाही चल रही है जिसे जल्द ही सरकार द्वारा उस पर सकारात्मक रूप दिया जायेगा। मंत्री ने बताया कि प्रदेश के विकास के लिए सड़क, बिजली, स्वास्थ्य, शिक्षा सबसे महत्वपूर्ण विन्दु है इसके लिए उ0प्र0 सरकार पूर्ण रूप से कटिबद्ध है।
इस मौके पर विधायक कपिलवस्तु श्यामधनी राही, जिलाध्यक्ष भाजपा रामकुमार कुॅवर, आवकारी मंत्री के प्रतिनिधि योगी , पुलिस अधीक्षक डा0 धर्मवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार मिश्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 वी0पी0शर्मा, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) प्रमोद शंकर शुक्ल, क्षेत्राधिकारी इटवा महेन्द्र सिंह देव, थानाध्यक्ष सिद्धार्थनगर समशेर बहादुर सिंह, जिला विकास अधिकारी सुदामा प्रसाद, उप कृषि निदेशक डा0 पी0के0 कन्नौजिया, जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक डा0 राज बहादुर मौर्य, जिला कृषि अधिकारी सी0पी0 सिंह, डी0सी0मनरेगा उमेश चन्द्र तिवारी, अधि0अभि0 लो0नि0वि(प्र0ख0)केशवलाल, सिंचाई निर्माण खण्ड, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, जिला सूचना अघिकारी आशुतोष पाण्डेय तथा अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below