आज की ताजा खबर

प्रदेश में “पॉवर फॉर आल मिशन” हेतु केन्द्र सरकार के साथ 14 अप्रैल को करार होगा- श्रीकान्त शर्मा

(विचारपरक प्रतिनिधि द्धारा)
लखनऊ 7 अप्रैल , उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने आज यहां शक्ति भवन में प्रेस प्रतिनिधियों से कहा कि प्रदेश में “पॉवर फॉर आल मिशन” को पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार 14 अप्रैल को केन्द्र सरकार के साथ करार करेगी ताकि प्रदेश के लोगों को 24 घंटे बिजली उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि उपभोक्ता हमारी पहली प्राथमिकता है। इनकी समस्याओं का शीघ्र समाधान किया जायेगा।
प्रदेश सरकार का लक्ष्य है कि वर्ष 2019 से पहले हर घर एवं हर खेत को सस्ती बिजली उपलब्ध हो। उन्होंने कहा कि रोस्टर के तहत इस समय प्रदेश के ग्रामीण इलाकों को 18 घंटे, तहसील क्षेत्र को 20 घंटे, बुन्देलखण्ड क्षेत्र को 20 घंटे, जिला/मण्डल मुख्यालयों को 24 घंटे, महानगर को 24 घंटे, औद्योगिक क्षेत्र को 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये है। इसके साथ ही रामनवमी के अवसर पर प्रदेश के सभी शक्ति पीठों तथा 4 प्रमुख धार्मिक स्थलों को भी बिना किसी अवरोध के बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की गयी थी।
ऊर्जा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में बोर्ड परीक्षा के दौरान छात्रों की पढ़ाई बाधित न हो अतः रात में बिजली कटौती नही की जायेगी और परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्रों मे भी बिजली आपूर्ति जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि गर्मी के दौरान किसी को भी कठिनाई नहीं होगी, लोगों की मांग के अनुसार ही विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जायेगी।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में बिजली की चोरी एक बड़ी समस्या है जिसके लिए राज्य सरकार बिजली चोरी के खिलाफ अभियान चला कर चोरो के खिलाफ सख्त कार्यवाई करेगी।
उन्होंने बताया कि प्रदेश में कई जगह आग लगने की घटनाये हुई है। इससे गेहूँ की फसल को भी नुकसान हुआ है। इसका संज्ञान लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश दिये हैं कि जहाँ पर भी किसानों की फसल को नुकसान हुआ है वहाँ मौके पर जा कर भौतिक सत्यापन कर इसका अविलम्ब संज्ञान लें तथा एक सप्ताह के अन्दर किसानों के नुकसान का आंकलन कर मुआवजा की राशि उनके खाते में भेजी जाये। इसमें लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित जिलाधिकारी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।
इसी प्रकार प्रदेश सरकार ने सर्वोच्च न्यायलय की गाइडलाइन के तहत ही प्रदेश में शराब के ठेके खोलने के निर्देश दिये हैं। अब धार्मिक स्थलों, शैक्षणिक संस्थानों, सार्वजनिक स्थलों, अस्पतालों, आबादी वाले क्षेत्रों तथा हाइ-वे के आस-पास ऐसी दुकानों को खोलने नहीं दिया जायेगा।
उन्होंने प्रदेश सरकार की तरफ से लोगों से अपील की है कि लोग कानून को अपने हाथ में न लें और कहीं पर भी ऐसी दुकानों में तोड़-फोड़ ने करें। सरकार अविलम्ब ही लोगों की भावनाओं का संज्ञान लेगी।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below