आज की ताजा खबर

प्रदेश के 51 जिला चिकित्सालयों को अत्याधुनिक सुविधायुक्त बनाया जायेगा-सिद्धार्थनाथ सिंह

अनुराग कुमार श्रीवास्तव
विचारपरक संवाददाता
बस्ती 25 मार्च, उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने आज कहा है कि इस वर्ष के अंत तक प्रदेश के 51 जिला चिकित्सालयों को अत्याधुनिक जांच सुविधाओं से लैश कर दिया जायेगा। इससे नागरिकों को विभिन्न जांच कराने के लिए बड़े शहरों में नहीं जाना पड़ेगा।
आज यहां पत्रकारों से बात चीत करते हुए उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार की योजना है कि सभी जिला चिकित्सालयों को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैश किया जाय, इस योजना के तहत बस्ती सहित 51 जिला चिकित्सालयों को प्रथम चरण में चुना गया है। इन चिकित्सालयों के अत्याधुनिक बनाने का काम दिसम्बर 2018 तक पूरा कर लिया जायेगा।
उन्होंने के प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि प्रदेश में 7500 डाक्टरों की कमी थी, लोक सेवा आयोग से 2065 डाक्टर मिले है, इसमें से 1600 डाक्टरों ने अपना कार्य भार ग्रहण कर लिया है। प्रदेश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा 1000 (एक हजार) प्राइवेट विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं लिया जा रहा है। इसके अलावा 2600 आयुष चिकित्सकों को भी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर संविदा के आधार पर तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकारी डाक्टरों की निजी प्रैक्टिस रोकने के लिए सरकार कटिबद्ध है। अब तक 100 चिकित्सकों के विरूद्ध एफ0आई0आर0दर्ज कराया गया है।
उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार के एक साल पूरा होने पर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं पर विस्तार से विचार रखते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने एक साल के भीतर कानून व्यवस्था में व्यापक सुधार किया है 1 लाख 1 हजार किलोमीटर सड़कों को गडढामुक्त करने के साथ नवनिर्माण किया गया है, 36 हजार करोड़ रूपया किसानों का कर्ज माफ किया गया है। गन्ना किसानों के बकाये भुगतान हेतु कठोर कदम उठाया गया है। किसानों को 25 हजार करोड़ रूपया भुगतान किया गया है।
निकट भविष्य में सरकारी विभागों में 4 लाख नौकरियों में भर्ती किया जायेगा, इसमंे से 1 लाख 70 हजार पुलिस विभाग मंे भर्ती होगी। उन्होंने कहा कि जे0ई0, ई0एस0 की बीमारी को रोकने के लिए 100 बेल्टीनेटर तैयार कराया गया है। पहले केवल 102 बेल्टीनेटर थे, अब यह संख्या बढ़कर 202 हो गयी है। प्रदेश के नागरिकों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 8 नये मेडिकल कालेज की स्थापना और निर्माण का काम चल रहा है।
प्रदेश में पर्यटन को बढ़ाने के लिए अयोध्या, काशी, मथुरा में विशेष महोत्सव, दीवाली, दीप दीवाली और होली का आयोजन करके पूरे विश्व का ध्यान इन महत्वपूर्ण नगरों की ओर दिलाया गया है। यातायात की दृष्टि से 15 नई रिजनल एयर पोर्ट की स्थापना किया गया है। प्रदेश में नकल विहीन परीक्षा कराकर एक नयी मिशाल कायम की गयी है। प्रदेश के 1.5 करोड़ बच्चों को कापी, किताब, जूता-मोजा, स्वेटर प्रदान किया गया है। प्रदेश सरकार ने एक साल में सभी क्षेत्रों में ऐतिहासिक कार्य किया है।
प्रदेश के प्रभारी स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह यहां प्रदेश सरकार के एक साल पूरा होने पर विकास योजनाओं की जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करने आये थे। बैठक में संसद सदस्य हरीश द्विवेदी, विधायक सदर दयाराम चैधरी, विधायक रूधौली, संजय प्रताप जायसवाल, विधायक हर्रैया अजय सिंह, विधायक महादेवा रविसोनकर, विधायक कप्तानगंज सी0ए0चन्द्र प्रकाश शुक्ल के अलावा पार्टी के कई नेता और अधिकारी सम्मिलित थे।
उप निदेशक सूचना डा0 एम0डी0 सिंह के मुताबिक सभी जनप्रतिनिधियों ने जनपद के प्रति विकास मेें विशेष रूप से चीनी मिलों द्वारा गन्ना मिलों के भुगतान एवं किसानों को दी जाने वाली गन्ना की भुगतान पर्ची, कृषि ऋणमोचन योजना, विद्युत विभाग की सौभाग्य योजना, लोक निर्माण द्वारा संड़कों का निर्माण, नवीन कार्य, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्जवला योजना, मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना, राजस्व विभाग द्वारा दी जाने वाली सहायता, पुलिस विभाग के कार्यो आदि की समीक्षा किया। जिसमें मंत्री ने पाया कि साल भर सरकार बनने के बावजूद भी अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों में बेहतर समन्वय नहीं बन पाया है तथा विकास कार्यो की सूची सम्बन्धित जनप्रतिनिधियों को नही दी जा रही है। इस पर प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि इस स्थिति में सुधार लाये तथा जनप्रतिनिधियों को सभी विकास कार्यो की सूची दी जाय तथा उनके प्रस्ताव के अनुसार नियमानुसार कार्य किया जाय। जनप्रतिनिधि को किसी भी दशा में नजर अंदाज न किया जाय।
तथा पुलिस विभाग को भी अपने कार्य मंे सुधार लाने तथा अनावश्यक रूप से हेलमेट आदि न लगााने पर उत्पीड़न न किया जाय। तथा पुलिस विभाग के अधिकारी भी हेलमेट लगायंे। मंत्री द्वारा स्वास्थ्य विभाग के कार्यो में भी सुधार के निर्देश दिये गये। श्री सिंह ने जिले के नवनियुक्त जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को जनता से बेहतर तालमेल बनाने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने को कहा।
तथा किसाानों के गन्ना भुगतान हेतु समयवद्ध कार्यवाही करने एवं गन्ना मंत्री से बात करने की कही। जिलाधिकारी श्री सुशील कुमार मौर्या, पलिस अधीक्षक श्री दीपक कुमार, मुख्य विकास अधिकारी श्री अरविन्द कुमार पाण्डेय, डीएफओ, उपनिदेशक सूचना, परियोजना निदेशक, जिला विकास अधिकारी, अर्थ एवं संख्या अधिकारी, विभिन्न् विभागों अधिकारी, विभिन्न विभागों के अभियन्ता उपस्थित रहे। विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियन्ता के बैठक में अनुपस्थित होने पर मंत्री श्री सिंह ने स्पष्टीकरण लेने का निर्देश दिया। कार्यक्रम मे सरकार की उपलब्धियों पर आधारित लगभग 74 पृष्ठ की पुस्तिका वितरित की गयी जिसमें सरकार के साल भर के कार्यक्रम का विवरण संलग्न है। तथा एलईडी प्रचार वाहन सरकारी कार्यक्रमों पर आधारित का संचालन भी किया गया।
बैठक से पूर्व प्रभारी मंत्री द्वारा आयुक्त कार्यालय परिसर में दिव्यांग जनों को ट्राइसाइकिल एवं भोजन देकर रवाना किया गया। आज के कार्यक्रम में लगभग पचास लाभार्थी को लाभान्वित किया गया जिसमें मंत्री जी हाथों द्वारा 17 लाभार्थियों को वितरित किया गया। आज के कार्यक्रमों का संचालन/तथ्यात्मक विवरण मुख्य विकास अधिकारी बस्ती द्वारा प्रस्तुत किया गया।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below