आज की ताजा खबर

पत्रकार उत्पीडन रोका जाए

DM BASTI PRESS NOTICE

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती, 15 फरवरी , उत्पीड़न की घटनाओं से आहत पत्रकारों ने विरोध दर्ज कराते हुये सोमवार को राज्यपाल को सम्बोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। न्याय मार्ग स्थित मीडिया दफ्तर पर पत्रकार एकत्र हुये, बांहो पर काला फीता लगाया और घटनाओं के विरोध में नारेबाजी करते कलक्ट्रेट पहुंच गये। यहां जिलाधिकारी अनिल कुमार दमेले ने ज्ञापन लेने के बाद पत्रकारों को भरोसा दिलाया कि ज्ञापन का सज्ञान लेते हुये इसे राज्यपाल को भेज दिया जायेगा। इससे पूर्व वरिष्ठ पत्रकार जयंत कुमार मिश्र ने पांच सूत्रीय ज्ञापन पढ़कर जिलाधिकारी को सुनाया। ज्ञापन में हाल में घटित दो घटनाओं का जिक्र करते हुये न्याय की मांग की गयी है। पत्रकारों को आहत करने वाली पहली घटना बुलंदशहर से जुड़ी है जहां की महिला आईएएस बी. चन्द्रकला द्वारा एक पत्रकार के साथ अमर्यादित शब्दों का प्रयोग करने का उल्लेख किया है जबकि दूसरी घटना सुल्तानपुर में पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या करने की है।
ज्ञापन में बी. चन्द्रकला एवं पत्रकार के बीच हुई वार्ता की रिकार्डिंग की जांच कराते हुये उनके खिलाफ आपराधिक मुकदमा दर्ज कराने, तथा उनके द्वारा अल्प समय में पद का दुरूपयोग करते हुये जुटाई गयी अकूत दौलत के स्रोतों की जांच कराने, सुल्तानपुर मामले में हत्यारों की गिरफ्तारी, उनके परिजनों को सुरक्षा व 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराते हुये आश्रित को सरकारी नौकरी दिये जाने की मांग की गयी है। पत्रकारों ने उत्पीड़न मामलों की जांच के लिये विशेष सेल गठित किये जाने की भी मांग किया जो समय सीमा में अपनी जांच रिपोर्ट सक्षम अधिकारी को सौंप दे, जिससे पीडि़तों को शीष्र न्याय मिल सके। अशोक श्रीवास्तव ने कहा कि किसी की जान की कीमत 10 या 20 लाख रूपयों से नही आंकी जा सकती, अपनों को खोने का दर्द वही बयां कर सकता है जिसके ऊपर बीतती है, ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिये स्वयं सूबे के मुखिया को गंभीर होना पड़ेगा।
महेन्द्र तिवारी ने कहा कि उत्पीड़न का विरोध न्याय मिलने तक जारी रहेगा। ज्ञापन सौंपने वालों में प्रदीप चन्द्र पाण्डेय, पुनीत दत्त ओझा, संदीप गोयल, एसपी श्रीवास्तव, देवेन्द्र पाण्डेय, संजय राय, राजुकमार पाण्डेय, इमरान अली, उपेन्द्र कुमार, जितेन्द्र कौशल, पंकज त्रिपाठी, कन्हैया सिंह, वसीम अहमद, विवेक पाल, प्रेमनाथ गोंड, अशोक कुमार, राकेश चन्द्र श्रीवास्तव बिन्नू, रजनीश तिवारी, पारसनाथ मौर्य, बबुन्दर यादव, राघवेन्द्र सिंह, माहेताब, कमलेश सिंह, नरेन्द्र पंण्डित, अमृत लाल, अनुज प्रताप सिंह आदि शामिल रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below