आज की ताजा खबर

पत्रकारो ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेज कर कार्यवाही की मांग किया

पत्रकारो ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेज कर कार्यवाही की मांग किया

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 29 जून, बस्ती जिले में पत्रकारो के ऊपर हुए हमले को लेकर बस्ती जिले के पत्रकारो ने इण्डियन जर्नलिस्ट एसोशिएसन के मंडल उपाध्यक्ष विवेक गुप्ता की अध्यक्षता में जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर कार्यवाही की मांग किया।
पत्रकारो ने मुख्य मंत्री को भेजे ज्ञापन में कहा की जनपद बस्ती में पत्रकार उत्पीघ्न की घटनाये बघ् गयी है।प्रशासन का रवैया सहयोगात्मक नही हैं। निष्पक्ष पत्रकारो को तरह तरह से भयभीत किया जा रहा है।पत्रकार निडर होकर समाचारो का कवरेज नहीं कर पा रहे है। अस्थिरता का माहौल मीडिया और प्रशासन के बीच का समन्वय खत्म कर रहा है।
विगत 10 दिनों के भीतर दो घटनाओ में स्थानीय प्रशासन व् पुलिस अधिकारी पीडितो को न्याय दिलाने के बजाय गुंडों और आरोपियों के साथ खघ्े रहे है। ऐसे में हम बस्ती जनपद के पत्रकार आपसे निम्नलिखित मांग करते है जिससें मीडिया और प्रशासन के बीच पूर्व भाँति समन्वय का माहौल बना रहे और हम पत्रकार खुद को सुरक्षित महसूस करते हुए अपनी भूमिका का निर्वहन कर सके।
10 जून को अतिक्रमण की फोटो खीच रहे पत्रकार अजय श्रीवास्तव पर हमला गांधीनगर चैकी इंचार्ज संजय राय के सामने हुआ। जान बचाने के लिए चैकी में भागे पत्रकार को पुलिस के सामने अपमानित होना पघ और चैकी इंचार्ज दर्शक की भूमिका में रहे।
इसी तरह 15 को गांधीनगर इलाके में अवैध रूप होटल पर घ्ूड इस्पेक्टर की छापेमारी का कवरेज करने पहुचे टीवी रिपोर्टर संतोष सिंह के साथ होटल मालिक मेधराज के गुर्गो अरविन्द सिंह, व् अरुण सिंह ने केवल अभद्रता की बल्कि जान से मारने की घकमी देते हुए उनका कैमरा जमीन पर पटककर क्षतिग्रस्त कर दिया और साक्षय मिटाने के लिये उसके अंदर से चिप निकाल ली।
मामले में कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन पत्रकार को नीचा दिखाने के लिये कोतवाल कपिलमुनि सिंह ने क्रास एफआईआर दर्ज कर लिया। इण्डियन जर्नलिस्ट एसोशिएसन के मंडल उपाध्यक्ष विवेक गुप्ता की अध्यक्षता में पत्रकार गण आपसे मांग करते है । पत्रकारो ने ज्ञापन देने के दौरान मांग किया है की 1. चैकी इंचार्ज गांधीनगर को निलम्बित करते हुए उनसे कायरता की वजह पूछी जाये जिसके कारण उन्होंने चैकी के अंदर शरण लेने गए पत्रकार को उनके सामने अपमानित होना पड़ा। 2.पूरे मामले में कोतवाल की संदिग्ध भूमिका की जाँच करायी जाये और उन्हें बस्ती कोतवाली से हटाया जाये। 3. मामलो में दोषियों के साथ निष्पक्षता व् पारदर्शिता के साथ कार्यवाही की जाये।
4. पत्रकार संतोष सिंह पर दर्ज फर्जी मुकदमे को वापस लिया जाये। वही विवेक गुप्ता ने कहा अगर हमारी मांगों को जल्द से जल्द पुरा न किया गया तो हम पत्रकारगण आगे धरना प्रदर्शन करेगे और अगर उससे भी हमारी मांगे पूरी न हुई तो हम सभी पत्रकार मिलकर आगे के आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।
इस मौके पर ज्ञापन देते समय महेंद्र तिवारी, विवेक गुप्ता, संतोष सिंह, सतीश श्रीवास्तव, मो0 आशिफ,ओपी त्रिपाठी, प्रेमनाथ गौघ्, एसपी श्रीवास्तव, वशिष्ठ पाण्डेय, लालू प्रसाद यादव, अनिल श्रीवास्तव, राजेश पाण्डेय, वसीम अहमद, संतोष श्रीवास्तव, धनञ्जय श्रीवास्तव, रजनीश त्रिपाठी, पुनीत ओझा, तनवीर आलम, पारस नाथ मौर्या, राकेश गिरी, अजय श्रीवास्तव अश्क, सोहन सिंह, रमेश मिश्रा सहित तमाम पत्रकार रहे मौजूद।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below