आज की ताजा खबर

नारी सुरक्षा के प्रति जागरूक किया गया

नारी सुरक्षा के प्रति जागरूक किया गया

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
शोहरतगढ़, (सिद्धार्थनगर) 5 दिसम्बर, नारी सुरक्षा के प्रति प्रदेश सरकार वेहद संवेदनशील हैं अब नारियों पर अत्याचार करने वाले दुराचारी किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जायेंगे उक्त बातें, स्थानीय कस्बा स्थिति सेठ राम कुमार खेतान बालिका विद्यालय में नारी सुरक्षा सप्ताह के तहत छात्राओं को जागरूक करते हुवे अपर पुलिस अधीक्षक ने कही।
इसके साथ ही नारी सुरक्षा सप्ताह के तहत अपर पुलिस अधीक्षक व मुख्य विकास अधिकारी ने नारी सुरक्षा के प्रति छात्राओं व शिक्षिकाओं को जागरूक करते हुयें पुलिस विभाग द्वारा नारी सुरक्षा के लिए कानून के विभिन्न धाराओ की जानकारी भी दी। उन्होंने ने कहा कि नारी के शिकायत को पुलिस गंभीरता से ले रही है, शिकायतकर्ता नारी के नाम और पते को गुप्त रखा जाएगा।
इस दौरान प्रधानाचार्य अंजू मिश्र की शिकायत पर सवारी ढोने वाले वाहनों में चलने वाले अश्लील गानों पर भी रोक लगाये जाने का आश्वासन दिया उन्होंने नारी सुरक्षा के लिए महिलाओं को पुलिस तक अपनी समस्या पहुँचाने को कहा। उन्होंने कहा की महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार ने डायल 100 और 1090 संचालित है। जिस पर महिलाएं अपने शिकायत कर सकती हैं। उन्होंने विद्यालय प्रशासन से विद्यालय में छात्राओं में से विशेष पुलिस अधिकारी बनाये जाने काउंसलर की व्यवस्था और शिकायत पेटिका की व्यवस्था किये जाने को कहा जिससे छात्राएं छात्रों की समस्याएं विद्यालय प्रशासन और पुलिस तक पहुँच सकें इस प्रकार छात्रों की सुरक्षा सहजता से किया जा सकता है।
मुख्य विकास अधिकारी ने छात्रों को जागरूक करते हुवे कहा की छोटी छोटी समस्याओं को छिपाने से भविष्य में बड़ी समाया का रूप ले सकती हैं इसलिए कोई भी समस्या हो निसंकोच अपने परिवार के बुजुर्गों या विद्यालय की शिक्षिकाओं से कहें जिससे पुलिस के द्वारा उस समस्या का निदान समय पर किया जा सके।
उक्त के दौरान थानाध्यक्ष शमशेर बहादुर सिंह ने कहा की नारी सुरक्षा को लेकर पुलिस सदैव तत्पर है एंटी रोमियो टीम के द्वारा तमाम मनचलों को जेल भी भेजा गया है बच्चियां किसी भी उत्पीडन की शिकायत पुलिस से भी कर सकती हैं। बिना नाम उजागर किये बच्ची की समस्या का समाधान किया जा रहा है। नारी के जागरूक न होने पर मामला पुलिस तक नहीं पहुँच पाता जिस से नारी को न्याय नहीं मिल पाता और उत्पीडन करने वालों का भी मनोबल बढ़ जाता है, इसलिए नारी को जागरूक होने की आवश्यकता है बचियाँ अपनी ही नहीं बल्कि आस पास किसी भी नारी उत्पीडन की घटना की शिकायत डायल 100 और 1090 पर कर सकती हैं जिससे पीडि़ता को न्याय मिले।
इस दौरान प्रधानाचार्य अंजू मिश्र, श्रीमती शकीला, सत्य प्रकाश शुक्ल, कल्पना श्रीवास्तव, श्रीमती चंदा अग्रहरी, श्रीमती गीतांजलि सिंह, पुष्पा, साफिया मैडम के साथ मुख्य विकास अधिकारी सिद्धार्थनगर, अपर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थनगर शोहरतगढ़ थान्ध्यक्ष शमशेर बहादुर सिंह पुलिस विभाग की महिला कान्स्टेबल मनीषा शर्मा, प्रियम्बदा सिंह, सरिता सिंह आदि के साथ विद्यालय की समस्त बालिकाएं उपस्थित रहीं।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below