आज की ताजा खबर

जिलाधिकारी ने विकास और कानून व्यवस्था की समीक्षा किया

जिलाधिकारी ने विकास और कानून व्यवस्था की समीक्षा किया

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
सिद्धार्थनगर 7 मार्च, वित्तीय वर्ष 2017-18 के अन्तर्गत कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यो की प्रगति समीक्षा बैठक जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू की अध्यक्षता में अम्बेडकर सभागार में सम्पन्न हुई।
बैठक की अध्यक्षता कर रहे जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने कार्यदायी संस्थाओं, विभागों की प्रगति ठीक न पाये जाने के कारण सम्बन्धित अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि अपने-अपने विभागों की प्रगति में तेजी लायें। यदि विभागीय अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन ठीक ढंग से नही करेंगे तो उनके विरूद्ध कार्यवाही करते हुए शासन को भी अवगत कराया जायेगा। जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अगली समीक्षा बैठक में अपने-अपने विभागों की सम्पूर्ण जानकारी के साथ बैठक में प्रतिभाग करेंगे।
जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह को निर्देश दिया कि रिबोर किये गये हैण्ड पम्पों की जांच कराकर सत्यापन रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जिला पंचायत राज अधिकारी ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन योजनान्तर्गत शौचालयों के निर्माण का कार्य प्रगति पर है समय से लक्ष्य को पूर्ण कर लिया जायेगा। उप कृषि निदेशक डा0 पी0के0 कन्नौजिया को अपने कार्य में प्रगति लाकर लक्ष्य को शत-प्रतिशत पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया गया। जिला कृषि अधिकारी ने जिलाधिकारी को अवगत कराते हुए बताया कि जनपद में खाद खाद गोदामों पर छापेमारी करके रिपोर्ट उपलब्ध करा दी बगयी है। अधि0अभि0 विद्युत को जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि विद्युतीकरण के लिए चयनित मजरो में कनेक्शनों की संख्या बढ़ी है जो कार्य पूर्ण नही मार्च माह के अन्त तक लक्ष्य को पूर्ण कर लिया जायेगा।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू को बताया कि दवाओं की उपलब्धता पूर्ण है। एम्बुलेंस सेवायें समय पर उपलब्ध होती है। टीकाकरण की प्रगति बढ़कर 75 प्रतिशत हो गयी है। जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया समस्त पेंशन फार्मो को जमां करा दिया गया है। जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिया कि छूटे कार्यो को पूर्ण करा लिया जाये। जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिया कि कोई भी पेंशन फार्म अधूरा न रहे वित्तीय वर्ष के अन्त तक लक्ष्य पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। अधि0अभि0 लो0नि0वि0 नक बताया कि नई सड़को का कार्य प्रगति पर है। जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि जो भी जंाच अधूरे है उन्हें शीघ्र ही पूर्ण कर मार्च माह के अन्त तक रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। जो अधिकारी सम्बन्धित जांच रिपोर्ट उपलब्ध नही करायेगा उसके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। इसके अलावा भू-माफियाओं के विरूद्ध कार्यवाही, राजस्व वादों का निस्तारण, तहसील समाधान दिवस, चकबन्दी वादों का निस्तारण, आई.जी.आर.एस., राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (राष्ट्रीय अन्धता निवारण कार्यक्रम), राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन (बाल स्वास्थ्य गारन्टी योजना), राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (जननी सुरक्षा योजना), अवैध खनन के विरूद्ध कार्यवाही, नहरों में टेल तक पानी पहुॅचाना, ई-टेण्डरिंग तथा अन्य विभागों के प्रगति की समीक्षा की गयी। इसके साथ ही साथ जनपद के अन्य विभागों की प्रगति ठीक पायी गयी।
इस अवसर पर उपरोक्त के अतिरिक्त मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार मिश्र, उपकृषि निदेशक डा0 पी.के.कन्नौजिया, जिला विकास अधिकारी सूदामा प्रसाद, पी.डी0 सन्त कुमार, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी राजेश कुमार सिंह, जिला कृषि अधिकारी सत्यप्रकाश सिंह, अधि0अभि0 लो0नि0वि0 (प्रा0ख0) सिद्धार्थनगर केशव लाल, नलकूप, जल निगम पवन कुमार यादव, सिंचाई निर्माण खण्ड, डी0सी0 मनरेगा उमेश चन्द्र तिवारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. फणीश सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी मीनाक्षी वर्मा, जिला प्रेाबेशन अधिकारी सतीश चन्द, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, प्र0 जिला सूचना अधिकारी आशुतोष पाण्डेय, जिला पूर्ति अधिकारी नरेन्द्र तिवारी, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी विकास, जिला युवा कल्याण अधिकारी महेन्द्र प्रताप अस्थाना, तथा समस्त कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर और उनके अधीनस्थ तथा अन्य जनपदस्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित रहेे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below