आज की ताजा खबर

जिलाधिकारी ने कई कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
संतकबीरनगर 27 अप्रैल, जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही आज जनपद के 17 विभागो में औचक निरीक्षण किया जहां डियूटी के दौरान सरकारी कर्मचारी अनुपस्थित रहे अधिकांश स्थानो पर साफ-सफाई की व्यवस्था भवनो का रंगाई पुताई के अलावा बहुत ही अव्यवस्था दिखाई दी उन्होने विभागाध्यक्ष को कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देश दिया कि अगले निरीक्षण में कर्मियो को दूर किया जाय 6 घंटे के औचक निरीक्षण में जनपद के उत्तर दिशा के सभी स्वास्थ्य, शिक्षा एवं विकास सम्बन्धित विभागो में हडकम्प का माहौल रहा इस दौरान उन्होने एक परिषदीय विद्यालय का औचक निरीक्षण किया जहां प्रधानाध्यापक अपने कक्ष में सोते हुए पाया कड़ी फटकार लगाते हुए बीएसए से वेतन रोकने का निर्देश दिया। डीएम के निरीक्षण में स्वास्थ्य केन्द्र, ब्लाक सहित अन्य सरकारी भवनो में डियूटी के दौरान 32 कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये जिलाधिकारी ने तत्काल प्रभाव से अनुपस्थित कर्मचारियो का वेतन बाधित करते हुए स्पष्टीकरण मांगा है।
अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी लाल जी शुक्ला के माध्यम से जिलाधिकारी ने निरीक्षण के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि प्रातः 9 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बघौली में निरीक्षण किया गया जहाॅ सरोजनह पीटर व वार्ड ब्वाय ड्यूटी के दौरान गायब मिले, निर्माणित भवन खण्डहर में तब्दील हो रहा है, विभाग द्वारा कोई पहल नही किया जा रहा है, डीएम ने सीएमओ को कड़ी फटकार लगाते हुए व्यवस्था को दूर किये जाने का निर्देश दिया है। अप्रैल माह से अब तक जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रसूता महिलाओ को धनराशि नही दिये जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त किया है। स्वास्थ्य शिक्षा टीम के सोनी सिंह, विवेक, शशि, सुमन व आशीष अनुपस्थित पायी गयी। उन्होने बताया कि बघौली ब्लाक कार्यालय का निरीक्षण किया गया। जहां विनय तिवारी वरिष्ठ लिपिक ड्यूटी के दौरान हस्ताक्षर करके गायब पाये गये। मनरेगा सेल के फिरोज, प्रीति यादव, शकील, खुशबुद्दीन, सत्येन्द्र कुमार, प्रदीप, रमेश कुमार, जितेन्द्र कुमार, नागेन्द्र कुमार, आशुतोष कुमार, अभिराम कुमार ड्यूटी के दौरान अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी ने ब्लाक के सभी अनुपस्थित कर्मचारियो का वेतन बाधित करते हुए सीडीओ को निर्देश दिया कि स्पष्टीकरण मांग कर कार्यवाही करे। ब्लाक में साफ-सफाई की व्यवस्था बहुत ही खराब थी कूड़ा जलाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होने निर्देश दिया कि गड्डा खोदकर कूड़ा गड्डे में डाला जाय। भवन की रंगाई पुताई कराई जाय। बघौली ब्लाक के गेट संख्या 2 को बन्द किये जाने का निर्देश दिया एक ही गेट से आवागमन को रखा जाये। इस दौरान उन्होने बाल विकास परियोजना सेन्टर एवं पशु चिकित्सालय का निरीक्षण किया।
जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय भाड़ारी में औचक निरीक्षण किया जहां प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक अपने कक्ष में सोते हुए मिले इस पर उन्होने बड़ी मुश्किल से शिक्षक को हिला कर जगाया उसके बाद भी शिक्षक डीएम को पहचानने में आनाकानी करने लगा कड़ी फटकार सुनने पर उसकी नींद टूटी शिक्षक को सोते पाये जाने पर डीएम ने कडी नाराजगी व्यक्त करते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया कि शिक्षक का वेतन बाधित कर स्पष्टीकरण की कार्यवाही की जाय। निरीक्षण में 70 बच्चो के सापेक्ष 16 बच्चे उपस्थित मिले। जबकि एमडीएम 50 बच्चो का रजिस्टर में दर्शाया गया था। प्राथमिक विद्यालय भाड़ारी में बच्चो द्वारा बर्तन धोने-मांजे जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर किया। इस दौरान उन्होने आगंनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण किया जहां 50 बच्चे अनुपस्थित पाये गये। आगनबाड़ी केन्द्र पर सहायिका अनुपस्थित पायी गयी, विद्यालय में भोजन की गुणवत्ता बहुत ही खराब मिली। मातृ शिशु कला केन्द्र बखिरा में संतोषजनक कार्य मिला। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सांथा में वार्ड ब्वाय ओमकार, अशोक कुमार अनुपस्थित पाये गये। जननी सुरक्षा योजना का धन प्रसूता महिलाओ को नही दिये जाने पर सीएमओ या सीएमएस से स्पष्टीकरण किया गया। विकास खण्ड सांथा में जिलाधिकारी के निरीक्षण में रामआचल श्रीवास्तव, तेज प्रताप, रामअनुज गिरी, खुर्शीद अहमद, प्रदुम्मन गुप्ता, मनरेगा सेल से शालिनी त्रिपाठी, महेन्द्र राय, प्रेम सागर, शिवपति त्रिपाठी, मोहन लाल, ड्यूटी पर मौजूद नही मिले।
जिलाधिकारी ने वेतन बाधित करने का निर्देश दिया सांथा ब्लाक में साफ सफाई की व्यवस्था को खराब पाये जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए साफ सफाई कराये जाने का निर्देश दिया सांथा ब्लाक में स्थित कृषि रक्षा केन्द्र पर राधेश्याम इंचार्ज अनुपस्थित पाये गये वेतन बाधित। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बेलहर कला में मोहम्मद ताहिर अनुपस्थित मिले। बेलहर ब्लाक के निरीक्षण में जाब कार्ड नही बनाये जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त किया लेखाकार को कड़ी फटकार लगाते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि बिना उनके हस्ताक्षर के रूपयो का भुगतान किया गया है। यह बहुत ही गम्भीर विषय है उन्होने सीडीओ को जाॅच किये जाने का निर्देश दिया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र दुधारा में डाक्टर गायब मिले वेतन रोका गया। भवन में साफ-सफाई व रंगाई पुताई की व्यवस्था, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सेमरियावा में दीवाल टूटा रहा। साफ-सफाई बहुत ही खराब मिली। एलईडी बल्ब लगाये जाने का निर्देश दिया। सेमरियावा ब्लाक में रामअनुज गिरी, गंगा प्रसाद का वेतन बाधित किये जाने का निर्देश दिया। मनरेगा सेल के मोहम्मद अली सेतु राम, हेमन्त कुमार, कृष्ण देव, ओरी यादव, आशीष यादव अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने सेमरियावा ब्लाक के गेहू क्रय केन्द्र नौवागांव मे ंनिरीक्षण किया इस दौरान उन्होने मौजूदा कोटेदार से रजिस्टर तथा स्टाक रजिस्टर को जाॅचा। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आनन्द प्रकाश श्रीवास्तव, अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी लाल जी शुक्ला, स्टेनो राकेश यादव उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below