आज की ताजा खबर

जागरूकता रैली निकाली गयी

(विचारपरक प्रतिनिधि द्धारा)
संतकबीरनगर 9 नवबंर , जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में जिला एवं सत्र न्यायाधीश उमेश चन्द्र शर्मा की अध्यक्षता में विधिक सेवा दिवस का आयोजन जनपद न्यायाधीश के सभागार में आयोजित किया गया। इस अवसर पर न्यायिक अधिकारियो ने विधिक सेवा दिवस पर अपने-अपने विचार प्रकट किये। कार्यक्रम का शुभारम्भ माॅ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एंव दीप प्रज्जवलित कर किया गया एवं इस दिवस के अवसर पर डोर-टू-डोर न्याय सबके लिए एवं सहायता करने के लिए वालेनटियर द्वारा जन जागरूकता रैली निकाली गई।
जनपद न्यायाधीश के सभागार में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव शैलेन्द्र यादव द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं लखनऊ उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण संतकबीरनगर के निर्देशो के अनुपालन में 9 नवम्बर से 18 नवम्बर तक विधिक सेवा दिवस मनाया जायेगा। जिला एवं सत्र न्यायाधीश उमेश चन्द्र शर्मा ने गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रव्यापी अभियान को सफल बनाने में सभी के सहयोग की आवश्यकता है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए वालेनटियर नियुक्त किये गये है।
जागरूकता की कमी होने के कारण विधिक सेवाए आम जनमानस को नही मिल पा रही है। उन्होने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण की प्राथमिकता होगी कि जनपद का एक-एक गांव वादविहीन घोषित किया जाय। जनपद न्यायाधीश उमेश चन्द्र शर्मा ने कहा कि नई व्यवस्था लागू की गई है। इसके संचालन होने में कुछ समय लग सकता है लेकिन एक सार्थक व्यवस्था बनेगी। उन्होने कहा कि गरीबो को न्याय दिलाना विधिक सेवा प्राधिकरण की प्राथमिकता है।
जीवन का उद्देश्य है कि शान्ति पूर्ण ढंग से जीये जीवन में अनायास व्यवधान उत्पन्न होने में हर व्यक्ति अपने सम्मान में मुकदमा दायर करता है। मुकदमा लड़ना तो बहुत अच्छा है लेकन सुलह समझौते के आधार पर यदि किसी वाद विवाद का निपटारा हो जाये तो यह बहुत ही अच्छी बात है। उन्होने कहा कि 9 ब्लाको में जनता को न्याय मिले इसके लिए 9से 18 नवम्बर तक ब्लाको में जागरूकता गोष्ठी सम्पन्न होगा। जिसमें प्रशासनिक अधिकारियो का भी सहयोग रहेगा। उन्होने अमेरिका का उदाहरण देते हुए कहा कि सौ प्रतिशत मुकदमो में 96 प्रतिशत मुकदमो का निस्तारण सुलह-समझौते के आधार पर हो जाता है।
न्याय सबके लिए है परिवार एकजुट रहे यह विधिक सेवा प्राधिकरण का पहल रहेगा। कोई भी व्यक्ति न्याय पाने के लिए वंचित न रहे। उसके लिए उनकी तरफ से पहल किया जायेगा। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव/सिविल जज सीनियर डिवीजन शैलेन्द्र यादव ने कहा कि डोर-टू-डोर विधि की जानकारी देकर सभी को जागरूक किया जायेगा। जिस असहाय व्यक्ति को न्याय की जरूरत है उनकी पूरी मदद की जायेगी। जिला एवं सत्र न्यायाधीश उमेश चन्द्र शर्मा ने जागरूकता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया जो पूरे शहर में आम जनमानस को जागरूक किया गया।
इस अवसर पर अपर जिला जज प्रफुल्ल कमल, सीजेएम दीपकान्त मणि, प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय श्री विनोद कुमार
बरनवाल, सिविल जज सीनियर डिवीजन संजय कुमार गौड़, सिविल जज सीनियर डिवीजन एफटीसी सत्यप्रकाश आर्या, सिविल जज जूनियर डिवीजन रणविजय सिंह, जेएम अभिषेक त्रिपाठी सहित वरिष्ठ अधिवक्ता एवं कार्यक्रम का संचालन अन्जय श्रीवास्तव ने किया।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below