आज की ताजा खबर

छात्रसंघ पदाधिकारियों ने प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा

(विचारपरक प्रतिनिधि)
शोहरतगढ(सिद्धाथनगर) 9 फरवरी , शिवपति पीजी कॉलेज शोहरतगढ़ में आशिक मिजाज पूर्व प्राचार्य का आडियों वायरल प्रकरण का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है कि प्रबंधक पुत्र का धमकी भरा आडियों वायरल होने से कॉलेज की राजनीति में गर्माहट आ गयी है। आडियों में प्रबंधक पुत्र छात्रसंघ अध्यक्ष से अपनी मर्जी के हिसाब से छात्रसंघ उद्घाटन कराने की धमकी देते सुने जा रहे हैं। ऐसा न करने पर उद्घाटन न होने की धमकी दे रहे हैं। प्रबंधक पुत्र की इस हरकत से नाराज छात्रसंघ पदाधिकारियों ने भी मोर्चा खोल दिया है। तय तिथि पर कार्यक्रम कराए जाने की मांग को लेकर पदाधिकारियों ने प्राचार्य को ज्ञापन सौंप कॉलेज में क्रमिक अनशन पर बैठ गये हैं।
दरअसल, शिवपति पीजी कॉलेज के छात्रसंघ उद्घाटन को लेकर चुनाव परिणाम के बाद से ही गर्माहट है। छात्रसंघ अध्यक्ष नसीर अहमद, महामंत्री संजय अग्रहरि कॉलेज प्राचार्य से समन्वय स्थापित कर 13 फरवरी की तिथि तय कर सांसद जगदम्बिका पाल को मुख्य अतिथि, विधायक चैधरी अमर सिंह को विशिष्ट अतिथि बनाया है। उद्घाटन को भव्य रूप देने के लिए पदाधिकारी, प्राचार्य व छात्र भी दिलोजान से लगे हुए थे कि अचानक प्रबंधक योगेंद्र प्रताप सिंह ने प्राचार्य को फोन कर उद्घाटन अभी न कराने की बात कहे हैं। इसकी जानकारी अध्यक्ष नसीर अहमद को हुई तो उन्होंने प्रबंधक से संपर्क साधा लेकिन संपर्क नहीं हो सका। प्रबंधक पुत्र धनुर्धर प्रताप सिंह से अध्यक्ष की बात हुई तो उन्होंने खुद की मर्जी व तिथि तय कर उद्घाटन की बात कही। इसमें अध्यक्ष ने कहा कि अतिथि व तिथि दोनों तय हो चुके हैं, कार्यक्रम स्थगित करने से कॉलेज की बदनामी होगी। इससे नाराज प्रबंधक पुत्र ने कहा कि कार्यक्रम नहीं होने दिया जाएगा। इस चर्चा की आडियों वायरल होने से तरह- तरह की चर्चाएं होनी शुरू हो गयी है। प्रबंधक पुत्र की इस कार्यशैली से नाराज छात्रसंघ पदाधिकारियों ने भी मोर्चा खोल दिया है। पदाधिकारी गुरूवार को प्राचार्य डॉ. एपी चंद को ज्ञापन सौंप कर क्रमिक अनशन पर बैठ गये। इस दौरान छात्रों ने कहा कि कार्यक्रम की तिथि अतिथि तय हैं, नियत तिथि पर ही कार्यक्रम होगा। कार्यक्रम में अवरोध करने पर क्रमिक आमरण अनशन, आंदोलन, चक्का जाम किया जाएगा। जिसकी पूरी जिम्मेदारी कॉलेज प्रशासन की होगी। धरनारत छात्रों को संबोधित करते हुए महामंत्री संजय अग्रहरि ने कहा कि छात्रसंघ उद्घाटन पदाधिकारियों के हिसाब से होता है। इसमें प्रबंध तंत्र का कोई रोल नहीं है, बावजूद हस्ताक्षेप ठीक नहीं है। प्रबंधक व पुत्र खुद उद्घाटन करने के लिए परेशान हैं। इसलिए परीक्षा के बीच उद्घाटन की अपनी तिथि बता रहे हैं। यह छात्रसंघ को चुनौती है। धरने में राहुल अग्रहरि, सुनील चैहान, सुनील यादव, रामपाल सिंह, अविनाश, उमेश, सर्वेश, अजय, शिवम त्रिपाठी, गुलाम मोहम्मद, गणेश आदि मौजूद रहे,प्राचार्य डाक्टर एपी चंद ने बताया है कि छात्रसंघ अध्यक्ष नसीर अहमद ने आरोप लगाया है कि प्रबंधक व पुत्र छात्रसंघ का उद्घाटन खुद करना चाहते हैं। कॉलेज का प्रबंधक ही उद्घाटन करेगा यह ठीक नहीं है। चुनावी वर्ष होने के नाते प्रबंधक उद्घाटन को लेकर परेशान है। छात्रसंघ का हनन नहीं होने दिया जाएगा।
छात्रसंघ का उद्घाटन चुने हुई पदाधिकारियों की मंशा के हिसाब से होता है। इसमें प्रबंध तंत्र को कोई रोल नहीं होता। कार्यक्रम में कॉलेज सहयोग करता है। छात्र धरने पर बैठे हैं, बीच का रास्ता निकाला जा रहा है।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below