आज की ताजा खबर

ग्रामीणों की समस्याओं को समयबद्धता के साथ निस्तारण किया जाये- डॉ0 रोशन जैकब

ग्रामीणों की समस्याओं को समयबद्धता के साथ निस्तारण किया जाये

(विचारपरक प्रतिनिधि द्धारा)
बुलंदशहर 27 दिसम्बर , 27 जिलाधिकारी डॉ0 रोशन जैकब द्वारा विकास खण्ड लखावटी के अन्तर्गत गांव सुरजावली में प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में अपना गांव शिविर का आयोजन कर ग्रामीणों की समस्याओं का निस्तारण करते हुए ग्रामीण स्तर तक संचालित शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित लाभार्थियों का सत्यापन किया एवं विभिन्न विभागों में संचालित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी विभागवार उपलब्ध कराते हुए योजनाओं से लाभ उठाने के लिए ग्रामीणों से कहा। इस अवसर पर राजस्व विभाग के कार्यो का सत्यापन करते हुए सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जों की जानकारी न होने पर गांव शहजादपुर एवं सुरजवाली के लेखपाल क्रमशः महेन्द्र पाल सिंह एवं हितेन्द्र शर्मा एवं क्षेत्र के कानूनगो देवेन्द्र सिंह को प्रतिकूल प्रविष्टि देते हुए दण्डित किया। उन्होंने कहा कि सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जों को दो दिन के अन्दर हटवाना सुनिश्ति करें और जिनके द्वारा अवैध कब्जे किये हुये है उनके विरूद्ध कार्रवाई सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी डॉ0 रोशन जैकब ने अपना गांव शिविर में सर्वप्रथम शासन द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी एवं लाभार्थियों का सत्यापन करते हुए गांव में 26 हेण्डपंप, वृद्धावस्था, दिव्यांग एवं विधवा पेंशनों के कम संख्या में आवेदन पत्र प्राप्त होने पर जिला समाज कल्याण अधिकारी को 26 एवं 27 दिसम्बर 2017 को विद्यालय प्रांगण में कैम्पों का आयोजन कर पात्र लाभार्थियों को चिन्हित करते हुए आवेदन पत्र प्राप्त करने के निर्देश देते हुए कहा जिससे गांव के गरीब लोग योजनाओं का लाभ उठा सके।
गांव में 261 स्वच्छ शौचालय निर्माण के सापेक्ष 91 शौचालयों का कार्य पूर्ण होना बताया गया, जिलाधिकारी ने लाभार्थियों से कहा कि जिनके द्वारा शौचालयों का उपयोग नहीं किया जा रहा है उनसे सरकारी धन की वसूली सुनिश्चित की जायेगी। अतः जनपद को ओडीएफ कराये जाने के लिए सभी अपने घरों में शौचालयों का निर्माण अपने निजी धन से एवं गरीब सरकारी धन से सुनिश्चित करायें। उन्होंने यह भी कहा कि खुले में शौच जाने वालों को रोकने हेतु गांव में एक समिति का गठन किया गया है और यह समिति खुले में शौच जाने वालों को चिन्हित करें और उन्हें इस कार्य से रोके। गांव में नाली, खडंजा, स्कूल की बाउन्ड्री, पंचायत सचिवालय का निर्माण, गांव में तालाब की खुदाई करते हुए पानी निकासी के उपाय करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिये गये।
उन्होंने डीपआरओ को निर्देशित किया कि जनपद में 100 गांव चिन्हित करते हुए पंचायत सचिवालयों का निर्माण कराना सुनिश्चित करें। विद्युतीकरण के अन्तर्गत गांव में 116 पोल स्थापित है और 87 लोगों द्वारा कनेक्शन प्राप्त किये गये है।
जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नई सौभाग्य योजना के तहत विद्यालय में कैम्प का आयोजन कर कनेक्शन जारी करें। सर्वशिक्षा अभियान के अन्तर्गत प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में मिड डे मील, डेªस, बैग एवं जूते वितरण की जानकारी उपलब्ध करायी गयी।
स्वास्थ्य विभाग की योजना के अन्तर्गत टीकाकरण, पोषण सप्ताह का आयोजन एवं मिशन इन्द्र धनुष की जानकारी आंगनवाडी, एएनएम एवं आशाओं से करते हुए गांव में कुपोषित एवं अतिकुपोषित बच्चों को इस श्रेणी से बाहर करने के लिए किये गये उपायों की जानकारी हासिल की और ऐसे बच्चों को मौके पर देखा गया।
पशुपालन विभाग द्वारा पशुओं को टीकाकरण किये जाने एवं राष्ट्रीय पशुधन बीमा योजना के लाभार्थियों का सत्यापन करते हुए सभी ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि गांव में पशुओं को दो बार टीकाकरण किया जा चुका है।
उप निदेशक कृषि श्री आर0के0 चैधरी द्वारा कृषि विभाग से सम्बन्धित योजनाओं में किसा क्रेडिट कार्ड, बीज वितरण, मृदा परीक्षण आदि की जानकारी दी। लाभार्थियों द्वारा लाभान्वित होने की एक सुर में पुष्टि की गई।
आपूर्ति विभाग द्वारा 425 राशन कार्ड बनाये गये है वहीं लघु सिंचाई के अन्तर्गत 4 लाभार्थियों को निःशुल्क बोरिंग की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। राजस्व विभाग द्वारा अपने प्रस्तुतीकरण में बताया कि पशुचर, तालाब, खाद के गड्ढो, चकमार्ग, शमशान भूमि से कब्जे हटाये गये है। विरासत के मामले में भी दर्ज किये गये है, पंचायत विभाग की योजनाओं को गांव में बेहतर तरीके से संचालित किये जाने के लिए ग्राम पंचायत अधिकारी श्री अवधेश प्रताप सिंह के कार्य की प्रशंसा जिलाधिकारी द्वारा की गई। जिलाधिकारी ने इस मौके पर ग्रामीणों द्वारा प्रस्तुत समस्याओं एवं शिकायतों को सुनते हुए उनके निस्तारण के आदेश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। सर्वाधिक समस्यायें राजस्व विभाग से प्राप्त होने पर तहसीलदार बुलन्दशहर को गांव में कैम्प आयोजित करने के निर्देश दिये।
गांव के युवकों के अनुरोध पर गांव में खेल का मैदान उपलब्ध न होने पर उन्होंने उप जिलाधिकारी बुलन्दशहर को रिक्त भूमि उपलब्ध कराने के निर्देश दिये और ग्राम पंचायत को इस ग्राउण्ड की बाउन्ड्री वाल बनाने के भी निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने कार्यक्रम के उपरान्त प्राथमिक विद्यालय के कक्षों में जाकर शिक्षा की गुणवत्ता की परख करते हुए बच्चों से सत्यापन किया। उन्होंने बच्चों को ड्रेस, बैग, जूते आदि के वितरण का भी सत्यापन किया। जिलाधिकारी ने बच्चों को मिड डे मील मीन्यू के अनुसार उपलब्ध कराये जाने का सत्यापन रसोई घर में पहुंचकर करते हुए वहां पर मसाले एवं अन्य सामान सही प्रकार से न रखे जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मसाले एवं अन्य सामग्री को डिब्बों में रखे जाने के निर्देश दिये। इसके उपरान्ह उन्होंने गांव में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत बनाये गये शौचालयों के निर्माण का सत्यापन 4 लाभार्थियों के घर जाकर किया।
इस मौके पर गांव की लड़कियों द्वारा गांव में कन्या विद्यालय की स्थापना किये जाने का अनुरोध जिलाधिकारी से किया साथ ही महिलाओं द्वारा गांव के पानी निकासी न होने की समस्या प्रस्तुत करने पर बारातघर के लिए आरक्षित भूमि पर तालाब बनाये जाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिये जिससे पानी निकासी संभव हो सके।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below