आज की ताजा खबर

कोटेदार की मनमानी से ग्रामीण परेशान

Breaking vichar parak

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
शोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर) 12 अप्रैल, तहसील क्षेत्र के महमुदवाग्रांन्ट गांव के 2 दर्जन से अधिक लोगों ने उप जिलाधिकारी शोहरतगढ़ अरूण कुमार सिंह के समक्ष गांव के कोटेदार की तानाशाही रैवैये से आजिज होकर आपत्ति दर्ज कराई और कोटेदार द्वारा कालाबाजारी रोकने एवं गबन को रोकने की गुहार लगाई है।
ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि गांव के कोटेदार मुस्तफा पूर्ति निरीक्षक के सह पर बड़े ही तानाशाही से कोटा चला रहे हैं। हम प्रार्थीगण गरीब एवं पात्र हैं। गावं वाले जब खाद्यान्न लेने जाते हैं तब उक्त कोटेदार यूनिट के हिसाब से गल्ला न देकर सीनाजोरी के बल पर किसी को 5, किसी को 10 तथा किसी को 15 किलोग्राम खाद्यान्न ही देता है। शिकायत करने पर कहता है कि वह रूपये के बल पर अधिकारियों को मिला लेगा, जिसको जहां जाना हो जाय, उसका कुछ नहीं होने वाला।
ग्रामीणों ने शपथ पत्र महज्जरनामें के साथ उप जिलाधिकारी शोहरतगढ़ से शिकायत की है। अब देखना यह है कि जहां एक तरफ योगी सरकार उचित दर विक्रेताओं को पारदर्शिता लाने के लिए प्रेरित कर रही है और आरोप के अनुसार कुछ एक कोटेदार सीनाजोरी के बल पर बितरण व्यवस्था को प्रभावित कर रहे है, पर कार्यवाही भी की जायेगी या मामला टाॅय टाॅय फिस हो जायेगा।
अब सवाल यह है कि जिस अधिकारी पर भ्रष्ट्राचार को सह देने का आरोप लगा हो वह किस हद तक और कैसे जांच करेगा। बहरहाल पूर्ति निरीक्षक फर्णीश्वर मणि त्रिपाठी ने कहा कि उपजिलाधिकारी महोदय के निर्देशन में संयुक्त रूप से नायब तहसीलदार सुरेन्द्र कुमार के साथ जांच करने का आदेश हुआ है, तो जांच कर दोषी पाये जाने की दशा में उक्त कोटेदार के बिरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below