आज की ताजा खबर

कुपोषित बच्चो को सूची बद्ध किया जाय

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
सतंकबीरनगर 30 दिसम्बर , जिलाधिकारी सुरेश कुमार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद स्तरीय राज्य पोषण मिशन की बैठक की अध्यक्षता की कहा कि जनपद में हौसला पोषण मिशन के अन्तर्गत हमारे जनपद के अधिकारियों ने अच्छा कार्य किया है गत माह में वजन दिवस पर बच्चों का चिन्हांकन का औसत 9ण्9 प्रतिशत रहा है यह औसत 10 प्रतिशत से थोड़ा और उपर होना चाहिए था।
फिर भी अधिकारियों व कर्मचाारियों का प्रयास अच्छा है इसे थोडा़ और बढाये जाने की आवश्यकता है जिससे हमारा स्तर प्रदेश में और ऊचा हो सकें। जिलाधिकारी श्री कुमार ने बैठक में आये सभी अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमें थेाड़ा अपने डयूटी से हट कर कार्य करने की आवश्यकता है जिससे कुपोषित बच्चों को चिन्हित करते हुए उन्हें पोषाहार उपलब्ध करा कर लाल श्रेणी पीली श्रेणी तथा पीली श्रेणी से हरी श्रेणी में लाने का प्रयास करें। बैठक में जिलाधिकारी श्री कुमार ने कहा कि चिन्हिकरण के प्रतिशत को और बढाये जाने के लिए हमें उन आंगन बाडी केन्द्रों का सत्यापन कराना होगा। जहां एक भी बच्चें कुपोषण की श्रेणी मंे नही है और जिन गांवों में बच्चों का चिन्हिकरण किया गया है वहां पुनः देखवा लिया जाए कि कोई बच्चा छूटा तो नही है जिससे उसका चिन्हिकरण नही हो पाया है इस लिए सरकारी योजनाओं का लाभ जनपद के प्रत्येक ऐसे कुपोषित बच्चों को उपलब्ध कराया जाए जिन्हें उसकी आवश्यकता है। सरकार द्वारा कुपोषित माताओं परिवारों व बच्चों के लिए समाजवादी नमक का वितरण करा रही है इसके लिए जनपद में जिलाधिकारी श्री कुमार ने बताया कि यह नमक ऐसे परिवारों के लिए है जहां पर कुपोषण ज्यादा है इस नमक में आयोडिन के साथ लौह तत्व तथा जिंक का भी मिश्रण है जो पूरे परिवार सहित कुपोषित बच्चों के लिए आवश्यक है इस नमक का दर बी0पी0एल व अन्त्योदय परिवारों के लिए 3 रू0 प्रति किलों तथा ए0पी0एल0 कार्ड धारकों के लिए 6 रूपया है इसके लिए जिलाधिकारी श्री कुमार ने जिला आपूर्ति अधिकारी श्री रामेन्द्र यादव को इस बात के निर्देश दिये कि जनपद में इस नमक का वितरण पारदर्शिता के साथ कराया जाए। बैठक में जिलाधिकारी श्री कुमार ने पाया कि जनपद में अधिकारियों द्वारा गोद लिए गांव की रिर्पोट नही प्राप्त हो रही है ऐसे 8 अधिकारी जिसमें जिला पंचायत राज अधिकारी, अर्थ एवं सख्याधिकारी, आबकारी अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता जल निगम, अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियत्रंण, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0, उपायुक्त मनरेगा, के स्पष्टीकरण प्राप्त किये जाने के निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी ने यह भी पाया कि कही कही आगन बाडी केन्द्रो पर पानी पीने के लिए हैण्ड पम्प नही है इसके लिए खण्ड विकास अधिकारियों को हैण्ड पम्प स्थापित कराये जाने के निर्देश दिये।
जनपद से कुपोषण हटाये जाने के लिए जनपद स्तर पर तैनात अधिकारी व सभी सी0डी0पी0ओ0 निरीक्षण् कार्य कर प्रगति में सुधार लायें। विकास खण्ड हैंसर, पौली, और नाथनगर की प्रगति अपेक्षित न होने के कारण इसे और बढाये जाने के निर्देश जिलाधिकारी श्री कुमार ने दिये। इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री लाल जी यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी श्री आनन्द प्रकाश श्रीवास्तव, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री अरूण कुमार दूबे, जिला कृषि अधिकारी श्री शैलेन्द्र कुमार वर्मा, जिला युवा कल्याण अधिकारी श्री विनय चतुर्वेदी, अपर जिला सूचना अधिकारी श्री लाल जी शुक्ल, खण्ड शिक्षा अधिकारी श्री आर0डी0 प्रसाद, सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहें।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below