आज की ताजा खबर

कानूनगो के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही होगी

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 16 नवम्बर, चकबंदी विभाग में लेखपाल के पद पर तैनात देवरिया निवासी सूर्यनाथ प्रसाद को बर्खास्त करने का निर्देश चकबंदी आयुक्त ने डीएम बस्ती को दिया है। वर्तमान में वह बस्ती एसओसी के अधीन चकबंदी कानूनगो के पद पर कार्यरत है। उन पर आरोप है कि जन्मतिथि में हेरफेर कर अपनी उम्र को 10 वर्ष घटा लिया जांच में उनकी उम्र अधिक है और अब तक उन्हे सेवानिवृत हो जाना चाहिए था।
चकबंदी कानूनगो सूर्यनाथ प्रसाद की चकबंदी लेखपाल के पद पर भर्ती हुई। देवरिया निवासी नरेन्द्र कुमार ने शिकायत किया कि सूर्यनाथ ने जन्मतिथि में हेरफेर किया है। जिला वि़द्यालय निरीक्षक देवरियां ने मामले की जांच की । जांच में उनकी जन्मतिथि को दो जनवरी 1952 पाया । आरोप है कि सूर्यनाथ ने अपने जन्मतिथि को कूटरचित तरीके से एक जनवरी 1962 करते हुए 10 वर्ष कम कर लिया है।
जांच के दौरान यह भी पता चला कि कक्षा नौ की फर्जी मार्कशीट के आधार पर हाईस्कूल की परीक्षा नरेन्द्र देव इण्टर कालेज पथरदेवा देवरिया से उत्तीर्ण किया। इसके चलते उनके अंकपत्र को निरस्त करने व एफआईआर की कार्रवाई भी प्रचलित है। प्राथमिक विद्यालय सिरजनपुर देवरिया के अभिलेखो में कक्षा पांच की जन्मतिथि तीन जनवरी 1952 है। प्रधानाचार्य चन्द्रशेखर आजार इण्टर कालेज देवरिया के अभिलेखो में कक्षा आठ में जन्मतिथि दो जनवरी 1952 दर्ज है। इस प्रकार जन्मतिथि को लेकर विरोधाभाष है।
चकबंदी आयुक्त ने सूर्यनाथ प्रसाद की जन्मतिथि को दो जनवरी 1952 मानते हुए डीएम बस्ती को कार्रवाई का निर्देश दिया है। इस जन्मतिथि के अनुसार सूर्यनाथ प्रसाद को 31 जनवरी 2012 को ही सेवानिवृत हो जाना था। चकबंदी आयुक्त ने सूर्यनाथ प्रसाद को तत्काल सेवामुक्त करते हुए दौरान वेतन के रूप में लिए गए सरकारी धन की रिकवरी कराने के लिए सक्षम फोरम पर मुकदमा दायर करने के लिए भी कहा है।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below