आज की ताजा खबर

कांग्रेस द्वारा संजय गांधी की पूर्णतिथि मनायी गयी

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 23 जून, कटेश्वर पार्क स्थित कांग्रेस पार्टी दफ्तर पर स्व. संजय गांधी का उनके शहादत दिवस पर याद किया गया। कांग्रेसजनों ने संजय गांधी के चित्र पर पुष्पार्चन कर उन्हे श्रद्धासुमन अर्पित किये। वरिष्ठ कांग्रेसी प्रेमशंकर द्विवेदी ने कहा कि संजय गांधी के भीतर भारतीय राजनीति की दिशा और दशा बदलने की क्षमता थी। निर्णय लेने की क्षमता व नेतृत्व के गुणों के कारण कम उम्र में ही व सभी के चहते बन गये थे।
उन्होने संजय गांधी के जीवन वृत्त पर चर्चा करते हुये कहा कि 14 दिसम्बर 1946 को जन्मे संजय गांधी को नियति ने हमसे 23 जून 1980 को छीन लिया। उनकी असमय मौत ने परिवार सहित देशभर का हिलाकर रख दिया था। उनके पुत्र वरूण गांधी महज तीन माह के थे। श्री द्विवेदी ने कहा कि उनके तेवर का आज भी देशवासी याद करते हैं, वे आज होते तो भारतीय राजनीति की दिशा कुछ और होती। पूर्व विधायक अंबिका सिंह ने कहा कि संजय गांधी की शहादत को देश कभी भुला नही पायेगा। देश को उनसे काफी उम्मीदें थीं। विषम परिस्थितियों में भी देश को दिशा देने की उनमें क्षमता थी। युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अंकुर वर्मा ने कहा कि संजय गांधी युवाओं के प्रेरणास्रोत थे।
कार्यक्रम में प्रमुख रूप से नर्वदेश्वर शुक्ला, जगनरायन आर्य, सई अहमद, प्रकाश चंद गुप्ता, शिव विभूति मिश्रा, डा. शीला शर्मा, डा. वीएच रिजं़वी, गिरजेश पाल, पवन चैरसिया, प्रमोद द्विवेदी, राजेश पांडे, छम्मनदास लखमानी, गंगा मिश्रा, शिवम शुक्ला, डा. वाहिद सिद्धीकी, लालजीत पहलवान, पतिराम यादव, अतीउल्लाह सिद्धीकी, गुड्डू सोनकर, रामप्रसाद, अलीम अख्तर, सूरज गुप्ता, मो. युसुफ कल्लन, शीतला सिंह, रामकरन आर्य, भवानी प्रसाद यादव, इन्दू मिश्रा, सोमनाथ पांडे, प्रमोद दुबे, नफीस अहमद, इन्द्रजीत सिंह, शेषमणि उपाध्याय, देवानंद पांडे, नरेन्द्र लाल, जय प्रकाश आदि उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below