आज की ताजा खबर

कथा सुनने से विकार दूर हो जाते है

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 16 मार्च, बस्ती कावरिया संघ चैरिटेबुल ट्रस्ट द्वारा आयोजित श्रीमद्भगवत कथा के दूसरे दिन कथा वाचक ब्रम्हचारी शिव बली चैबे जी ने कहा कि भू्रण हत्या, ब्रम्ह हत्या के समान है। मानव समाज को इससे बचना चाहिए । संसार में इससे बड़ा कोई महापाप नहीं है।
उन्होंने कहा कि भगवत् कथा की सार्थकता तभी सिद्व होती है जब इसे हम अपने जीवन व व्यवहार में उतारते हैं। अन्यथा यह कथा केवल मनोरेजन मात्र बनकर रह जायेगी। भगवत कथा से मन का शुद्वि करण होता है। इससे संशय दूर होता है और मन को शान्ती व मुक्ति मिलती है।
श्रीमद्भवगत कथा के श्रवण मात्र से जन्म-जन्मान्तर के विकार दूर हो जाते हैं।
प्राणि मात्र का लौकिक व अध्यात्मिक विकास होता है। धर्म लाभ एवं मोक्ष प्राप्ति के लिए कड़े प्रयास करने पड़ते हैं, कलयुग में कथा सुनने मात्र से व्यक्ति भव सागर से पार हो जाता है।सोया हुआ ज्ञान, बैराग्य कथा श्रवण से जागृति हो जाता है। कथा कल्प वृक्ष के समान है जिससे सभी इच्छाओं की पूर्ति की जा सकती है।
हम अपने स्वजनों से स्नेह व प्रेम बनाये रखते हैं, किन्तु भगवान से कोई रिश्ता नहीं बनाते । इसी लिए हमें अपनों की याद हर पल, व हर समय आती है, किन्तु भगवान की याद संकटों व मुश्किलों में ही आती है। हमें अपने स्वजनों की तरह ईश्वर को भी अपनाना पड़ेगा। ईश्वर से रिश्ता व सम्बंध जोड़कर हम हमेंशा के लिए उनके अपने हो सकते है। पूरे देश में प्रभु सम्बंध अभियान चलाया जा रहा है। इसके लिए उन्होंने श्री कृष्ण भक्त मीराबाई व भोजराज राणा, के प्रसंगों को सुनाया।
कथा आयोजन से पूर्व आज जन जागरण अभियान के तहत शहर के मंगल बाजार, सुर्ती हट्टा, गांधी नगर, रौता चैराहा, दक्षिण दरवाजा, हास्पिटल चैराहा सहित अन्य मुहल्लों में मोटर साइकिल जलूस निकाली गई और शहर वासियों को कथा में आने के लिए आमंत्रित किया गया ।
इस दौरान ट्रस्ट के अध्यक्ष नन्द किशोर साहू, सचिव संजय द्विवेदी, विवेक गिरोत्रा, आनन्द राजपाल, गौरव भारत, श्याम लाल पंसारी, अनिल कुमार, राजन ठाकुर, अभिनव उपाध्याय, डा0 डी0सी0 दूबे, परशुराम चैधरी, सुनील गुप्ता, विजय गुप्ता, शक्ति गुप्ता, जान पाण्डेय, नागेन्द्र सिंह, कमल जायसवाल, मदन गोपाल, हरि चैधरी, संजय जायसवाल, सत्यवान सिंह, हरीश पटवा, राज कुमार, भागवत जी, अदालत प्रसाद, सुधीर कुमार पाण्डेय, अतुल अरोरा, शक्ति गुप्ता, विशाल द्विवेदी, राजेश मिश्रा, संजय पाण्डेय, प्रभु प्रीत सिंह, अजीत कसौधन, रवीन्द्र तिवारी, बैजनाथ अग्रहरि सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below