आज की ताजा खबर

ओवर हेड टैंक का लाभ नही मिल पा रहा है

NEWS HINDI DAINIK VICHAR PARAK NEWS all UP india

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बढ़नी (सिद्धार्थनगर) 13 जनवरी , ग्रामीण इलाकों में शुद्ध पानी की उपलब्धता के लिए सरकार ने मिनी वाटर हेड टैंक का निर्माण करवाया है।एकाध छोड़कर लगभग सभी जगहों पर कर्मचारियों की कमी के कारण योजना को अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका।जिससे इन्सेफेलाइटिस जैसे भयंकर रोग से ग्रसित इस क्षेत्र में लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया नहीं हो पा रहा है और ग्रामीण दूषित जल पीने को विवश हैं।
मिनी वाटर टैंकों से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति को लेकर क्षेत्र वासियों ने मुख्यमंत्री,स्वास्थ्य मंत्री व जिलाधिकारी को पत्र भेजकर व्यवस्था को सुदृढ़ कराए जाने की माँग किया है।
बढ़नी विकासक्षेत्र का ग्रामीण इलाका वैसे ही इन्सेफेलाइटिस जैसी जानलेवा बीमारी से ग्रसित है।दर्जनों लोग इसकी चपेट में आ कर अपनी जान गंवा चुके हैं।
सरकार ने इन्सेफेलाइटिस प्रभावित बढ़नी ब्लाक के मनिकौरा,तालकुण्डा,सिसवा,गड़रखा,
बसावन पाकर उर्फ मदरहिया समेत 27 गाँवों में लगभग दो लाख की लागत से मिनी वाटर हेड टैंकों का निर्माण हुआ है।सरकार की यह जनकल्याणकारी योजना आपरेटरों के अभाव में शुरु नहीं हो पा रही है।मिनी वाटर टैंक लोगों के लिए सिर्फ हाथी के दाँत की भाँति शोपीस ही बना हुआ है।कर्मचारियों के अभाव में बढ़नी ब्लाक में निर्मिय 27 मिनी वाटर हेड टैंकों में से किसी भी टैंक से पानी की सप्लाई नहीं हो रही है।पानी की सप्लाई के लिए बनी नालियाँ जाम हो चुकी हैं।
इस संबंध में हिन्दु युवा वाहिनी के जिला महामंत्री व जिला पंचायत सदस्य अजय सिंह,मित्रसंघ के जिलाध्यक्ष सनी श्रीवास्तव,पूर्व प्रधान रामानन्द चैहान,प्रधानाध्यापक आशाराम,आशुतोष शुक्ल,अजय मिश्र,राम मूरत यादव,चन्द्रशेखर मौर्य,मो.सफीक आदि ने मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी से आपरेटरों की नियुक्ति करवाकर मिनी वाटर हेड टैंकों से पानी सप्लाई करवाने की माँग किया है।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below