आज की ताजा खबर

ऋण वितरण का वार्षिक लक्ष्य शत प्रतिशत पूरा किया जाय-कुणाल सिल्कू

KUNAL SHILKU DM SDR

(सूचना विभाग द्वारा)
सिद्धार्थनगर 19 दिसम्बर, जिला परामर्शदात्री समिति एवं जिला स्तरीय पुनरीक्षण समिति तथा फसल बीमा योजना की बैठक जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने वित्तीय वर्ष 2018-19 के अन्तर्गत त्रैमास सितम्बर 2018 की समाप्ति पर वार्षिक ऋण योजनान्तर्गत वित्तीय लक्ष्य रू0 271963 लाख के सापेक्ष रू0 115227 लाख अर्थात 42.37 प्रतिशत की उपलब्धि रही। जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने सभी बैंक सहभागियों को निर्देश दिया कि वित्तीय वर्ष 2018-19 में विशेष ध्यान देकर खण्डवार लक्ष्यों को 100 प्रतिशत प्राप्त करे। किसान क्रेडिट कार्ड योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2018-19 हेतु निर्धारित लक्ष्य 107571 के0सी0सी0 के सापेक्ष 30.09.2018 तक 52783 के0सी0सी0 नवीनीकृत निर्गत किये गये। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनान्तर्गत 2018-19 में कुल लक्ष्य 308 के सापेक्ष पूर्ति 152 है जो 49.35 प्रतिशत है। ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का वार्षिक लक्ष्य 22 प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से 600 व्यक्तियों को राजगारपरक प्रशिक्षण दिया जाना है जिसके सापेक्ष 30.09.2018 तक आयोजित 12 प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से कुल 374 लोगो को प्रशिक्षण दिया गया जिसमें 21 व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त हुआ है।
जिला विकास प्रबन्धक नाबार्ड अरूण कुमार ने बताया कि संभाव्यतायुक्त ऋण योजना एक ऐसा दस्तावेज है जो प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्र में उपलब्ध संभव्यताओं के बैंक ऋण के माध्यम से दोहन को रेखाकिंत करता है। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के महत्व को समझाते हुए फसली ऋण हेतु रू0 182047.67 लाख तथा कृषि और संबधित गतिविधियों के लिए रू0 59244.64 लाख के सावधि ऋण का आकलन किया गया है। इसके अतिरिक्त कृषि आधारभूत संरचना के विकास के लिए रू0 6138.26 लाख, कृषि सहायक गतिविधियों हेतु रू0 3560.00 लाख, सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यम क्षेत्र के लिए रू0 30208.00 लाख, निर्यात-शिक्षा-आवास के लिए रू0 13680.00 लाख तथा सोशल इन्फ्राट्रक्चर के लिए रू0 789.00 लाख के बैंक ऋण की संभव्यता का आकलन किया गया है।
जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने सभी बैंक शाखा प्रबन्धकों को निर्देश दिया कि किसानों, व्यवसायियों को किसी भी प्रकार से अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाये उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण कराया जाना सुनिश्चित करे। भारत सरकार की योजना जन-धन योजना, जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मुद्रा बीमा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार कराये जाने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने मुद्रा लोन बढ़ाये जाने का निर्देश दिया गया। राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक द्वारा संभव्यता युक्त ऋण योना 2019-20 नामक पुस्तक का विमोचन जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू द्वारा किया गया।
इस बैठक में उपरोक्त के अतिरिक्त उपकृषि निदेषक डा0 पी0के0कन्नौजिया, जिला विकास अधिकारी राजेन्द्र प्रसाद, डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 रामआसरे सिंह, जिला कृषि अधिकारी सी0पी0 सिंह, लीड बैंक अधिकारी ओमप्रकाश अग्रहरि, डी0डी0एम0 नाबार्ड अरूण कुमार, मुख्य प्रबन्धक भारतीय स्टेट बैंक मनोज कुमार, शाखा प्रबन्धक नौगढ़ तथा समस्त बैंको के शाखा प्रबन्ध आदि उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below