आज की ताजा खबर

अमहट पुल निर्माण को लेकर चन्द्रमणि पाण्डेय का आमरण अनशन चल रहा है

अमहट पुल निर्माण को लेकर चन्द्रमणि पाण्डेय का आमरण अनशन चल रहा है

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 9 मार्च, अमहट पुल का निर्माण शुरू किये जाने सहित 5 सूत्रीय मांगों को लेकर जिला अधिकारी कार्यालय पर रालोद के प्रदेश सचिव चन्द्रमणि पांडे सुदामा द्वारा मांगों को पूरा कराने के लिए आमरण अनशन कर रहे है, 8 मार्च से शुरू हुआ उनका आमरण अनशन आज दूसरे दिन भी जारी रहा।
दूसरे दिन अपना समर्थन पत्र देकर जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश पटेल घनश्याम लाल श्रीवास्तव बृजेश चैधरी पप्पू कुमार सहित दर्जनों पदाधिकारियों के साथ ही साथ जनता दल एस ने भी समर्थन पत्र सौंपकर रमेश चन्द्र भारती जिला अध्यक्ष प्रबुद्ध प्रकोष्ठ मीडिया प्रभारी प्रमोद आर्य कोषाध्यक्ष राम प्रकाश पटेल पूर्व मंडल अध्यक्ष सुख राम पटेल ने सहभाग किया दोनों संगठनों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए चन्द्रणि पांडे ने कहा कि दलीय भाव से ऊपर उठकर आप लोगों के समर्थन से मेरा आत्मबल दोगुना हो गया है निश्चित आने वाले दिनों में दलीय भाव से ऊपर उठकर अन्य दलों व संगठनों के साथ-साथ बस्ती की सम्मानित जनता कंधे से कंधा मिलाकर समस्या समाधान का मार्ग प्रशस्त करेगी और मैं जनता जनार्दन रूपी द्वारिकाधीश के लिए अंतिम सांस तक लड़ता रहूंगा जहां पुल निर्माण हेतु जून माह में भूखहडताल अगस्त माह में शवासन अक्टूबर माह में 6 दिन जल सत्याग्रह चन्द्रमणि पांडे द्वारा किए जाने पर बार-बार आश्वासन दिया गया वहीं अनेक अन्य राजनीतिक दलों व संगठनों ने भी समय-समय पर लड़ाई लड चुके हैं सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने 15 दिन के अंदर पुल निर्माण शुरू होने की बात की वहीं 1 माह पूर्व सांसद जी ने नारियल फोड़कर पुल निर्माण शुरू होने की झूठी खबर फैलाई जबकि आज तक पुल निर्माण हेतु एक कंकड का प्रयोग नहीं किया गया है छावनी हर्रैया कप्तानगंज के प्रमुख चैराहों पर अण्डरपास हेतु चन्द्रमणि पाण्डेय द्वारा 14-15 में भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से किया गया था जिसके सापेक्ष आश्वासन पत्र तो मिला किन्तु जहां कप्तानगंज में अंडरपास निर्माण के संदर्भ में कोई प्रगति नहीं है वही छावनी व हर्रैया में लोहे का अंडरपास बनाया जा रहा है जिससे वृद्धजन बाइक सवार कार सवार मार्ग पर नहीं कर सकते मोदी सरकार द्वारा वन रैंक वन पेंशन पर केंद्र में सरकार में आई किंतु आजादी के असली नायक द्वितीय विश्व युद्ध के सैनिकों के आश्रितों के पेंशन में 1 की वृद्धि नहीं हुई जिससे सिद्ध होता है कि वर्तमान की केंद्र व प्रदेश सरकार वादों की सरकार है, इन्हें जनता की चिंता नहीं अपितु सत्ता और सत्ता के विस्तार की चिंता है इस मौके पर अम्ब्रीश मिश्रा विवेक पांडे दीपचंद पटेल शिवकुमार गौतम बृजेश यादव समयदीन सत्यप्रकाश पांडे चन्द्रभूषण पांडे नायब चैधरी वकास अहमद शेर सिंह विनोद बर्मा सहित बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below