आज की ताजा खबर

अभिलेखों का रख रखाव और बेहतर ढंग से किया जाय-दिनेश कुमार सिंह

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 24 फरवरी, आयुक्त बस्ती मण्डल बस्ती दिनेश कुमार सिंह ने कलेक्टेªट कार्यालय एवं बस्ती सदर तहसील का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने कहा कि बेहतर कार्य संस्कृति का सृजन किया जाय और कार्य की बेहतरी के लिए हरसम्भव प्रयास किया जाय। निरीक्षण के समय जिलाधिकारी सुशील कुमार मौर्या एंव अपर जिलाधिकारी भगवान शरण के साथ सभी उप जिलाधिकारी एवं अन्य राजस्व अधिकारीगण उपस्थित रहे।
विभिन्न न्यायालयों में लम्बित मुकदमों की समीक्षात्मक जानकारी प्राप्त करते हुए मण्डलायुक्त ने कहा कि सम्वेदनशील प्रकरणों का निस्तारण अवशेष रहना कत्तई उचित नही है। जिलाधिकारी ने कलेक्टेªट भवन निर्माण की अद्यतन स्थित की जानकारी निरीक्षण के दौरान उपलब्ध कराया। निर्माण का कार्य देख रहे अधिशाषी अभियन्ता को मौके पर तलब कर निर्देश दिया गया कि निर्माण कार्य की कार्यवाही तेजी से संचालित की जाय। उन्होने कलेक्टेªट एवं तहसील अभिलेखाागार का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिया कि महत्वपूर्ण अभिलेखो का रख-रखाव व्यवस्थित ढंग से किया जाय। इस बात का ध्यान रखा जाय कि उचित अनुरक्षण के अभाव में कोई भी अभिलेख नष्ट न होने पावे। आयुक्त श्री सिंह ने कलेक्टेªट के विभिन्न अधिष्ठानों में कर्मचारियों की कमी पूरी करने के लिए नियुक्ति हेतु नियमानुसार अधियाचन प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। सफाई कार्य में विशेष ध्यान देने के साथ-साथ सदैव इस स्थित के लिए तैयार रहना होगा कि न्यायालय द्वारा किसी प्रकार की फाइल तलब करने पर सुगमता से फाइलों की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके। जो लेखपाल पदोन्नति हेतु अर्ह हो उन्हे पदोन्नति देते हुए उनके द्वारा रिक्त किए गये पदो को भी अधियाचन में सम्मिलित किया जाय।
अपने निरीक्षण के दौरान आयुक्त बस्ती मण्डल बस्ती श्री सिंह ने राजस्व वसूली में मांग के सापेक्ष शतप्रतिशत उपलब्धि हासिल करने का निर्देश देते हुए कहा कि आडिट आपत्तियों का निस्तारण रजिस्टर नं0 चार में उपलब्ध धनराशि के नियमानुसार उपभोग एंव चरित्र सत्यापन की कार्यवाही नियत प्रक्रिया के अनुसार किए जाने की आवश्यकता है। समीक्षा के दौरान मण्डलायुक्त ने कहा कि भूलेख अधिष्ठान में भी काफी पद रिक्त है। रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्ति की प्रक्रिया आरम्भ करायी जाय तथा भूलेख में मृतक आश्रितो की नियुक्ति के प्रकरण में किसी प्रकार का विलम्ब न किया जाय। उनहोने कहा कि सम्वेदनशील प्रकरण प्रायः लम्बित रहते है। अधिकारीगण इस पर ध्यान देते हुए जितनी जल्दी हो सके कार्यवाही की जाय। तहसील स्थित कम्प्यूटर खतौनी कक्ष के निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त ने मौके पर व्यवहारिक प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त किया तथा आवश्यक निर्देश दिया। तहसील के राजस्व अभिलेखागार के निरीक्षण के समय बस्तो को खोलवाकर अभिलेखो की स्थिति का बारी से निरीक्षण किया।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below