आज की ताजा खबर

अधिकारी शासन के मंशा के अनुरूप कार्य करें-दिनेश कुमार सिंह

DAINIK HINDI VICHAR PARAK

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 12 अप्रैल, मण्डलायुक्त दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में मण्डल स्तरीय विकास कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक स्थानीय आयुक्त सभागार में सम्पन्न हुयी। समीक्षा बैठक में आयुक्त श्री सिंह ने मण्डल के तीनों जनपदों में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित विकासपरक, लाभार्थीपरक योजनाओं एवं निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा किया।
समीक्षा के दौरान आयुक्त श्री सिंह ने कहा कि मण्डल के तीनों जनपदों के जिलाधिकारीगण को शासन की नीतियों के अनुसार अपने जनपद से संबंधित कार्यो की गुणवत्ता, समयबद्धता एवं साथ-साथ अधिकारियों को उनके जिम्मेदारियों के प्रति जवाबदेह रवैया आदि की नियमित समीक्षा करते रहने के निर्देश दिये।
आगामी 14 अप्रैल 2017 के दिन अम्बेडकर जयन्ती के अवसर पर मण्डल के सभी जनपद, तहसील एवं ब्लाक मुख्यालयों सहित ग्राम पंचायतों में “डिजिटल इण्डिया” को बढ़ावा देने सम्बंधी कार्यशाला/गोष्ठी आयेाजित कर उपस्थित अधिकारियों, कर्मचारियों एवं ग्रामीणों को आनलाइन ट्रांजेक्शन, इण्टरनेट विभिन्न एप्लीकेशन प्रोग्रामों, भीम एप, आधार पे एप्लीकेशन आदि के उपयोग के बारें में जागरूक करने संबंधी दिशा निर्देश आयुक्त श्री सिंह ने दिया। 14 अप्रैल को मा0 प्रधानमंत्री के भाषण का प्रसारण टीवी के माध्यम से ग्राम पंचायत स्तर पर गा्रमीणों को लाइव दिखाने का भी निर्देश दिया गया।
इस समय गेहॅू कटाई के समय खेतों में डंठल को जलाने पर सख्त प्रतिबन्ध लगाने के निर्देश संबंधित कृषि विभाग के अधिकारी को दियें गये । आयुक्त श्री सिंह ने गन्ना किसानों के भुगतान के संबंध में वाल्टरगंज एवं रूधौली चीनी मिलोें को आगामी 14 दिनों के अन्दर किसानों का बकाया भुगतान न करने के दिशा में कार्यवाही संबंधी नोटिस देने के निर्देश गन्ना अधिकारी को दिया गया।
विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने मण्डलीय अधिकारी विद्युत को शासन द्वारा जारी रोस्टर के अनुसार ग्रामीण इलाकों में 18 धण्टे, तहसील मुख्यालयों पर 20 धण्टा एवं जनपद मुख्यालय पर 24 धण्टे विद्युत आपूर्ति बहाल रखने एवं आवश्यकतानुसार ट्रांसफार्मरा, तारों आदि के मरम्मत एवं बदलने संबंधी निर्देश दिये। विभिन्न योजनाओं के तहत लक्ष्य के सापेक्ष ग्रामीण बस्तीओं को उर्जीकृत करने की दिशा में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया। लो बोल्टेज की समस्या से जूझ रहे नलकूपों का ट्रंासफार्मरों को बदलने या अतिरिक्त ट्रांसफर्मर लगाकर तत्काल क्रियाशील करने का निर्देश दिया गया। आयुक्त श्रीसिंह ने कहा कि शासन से मिलने वाली बिजली का प्रत्येक दशा में बेहतर डिस्ट्रीब्यूशन सुनिश्चित कराया जाय। इसमें आने वाली छोटी-छोटी समस्याओं का निराकरण अधिकारीगण शीध्र करा दे।
शासन के निर्देशानुसार मण्डल की सभी सड़कों को प्रत्येक दशा में आगामी 15 जून 2017 तक गढ़ामुक्त किया जाना है। इस संदर्भ में आयुक्त श्रीसिंह ने पीडब्लूडी सहित अन्य संबंधित विभागों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने विभाग से संबंधित सभी सड़कों का सर्वे रिपोर्ट अविलम्ब मुख्यालय को भेजते हुए लक्ष्य की दिशा में कार्य प्रारम्भ कर दिया जाय। इस वर्ष के गेहूॅ खरीद के समीक्षा के दौरान जानकारी दी गयी कि अबतक मण्डल में कुल 194 क्रय केन्द्रों के माध्यम से कुल 1245 टन गेहॅॅू की खरीद की जा चुकी है। बनाये गये कुल क्रय केन्द्रो में अभी तक मात्र 73 केन्द्रांे पर गेहॅू खरीद शुरू हो पायी है इस पर आयुक्त श्रीसिंह ने बाकी क्रय केन्द्रों को तत्काल सक्रिय कराने के साथ-साथ भण्डारण में आने वाली समस्या को आवश्यकतानुसार उच्च स्तर पर सम्पर्क कर हल कराने का निर्देश दिया। गेहॅू खरीद विषय पर जिलाधिकारी सिद्धार्थ नगर द्वारा बनाये गये किसानों हेतु सुविधाजनक व्यवस्था पर संतोष व्यक्त करते हुए आयुक्त ने बाकी जनपदों को ऐसी ही व्यवस्था लागू करने का सलाह दिया।
मण्डल में निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए आयुक्त श्रीसिंह ने कहा कि अधूरे निर्माण कार्यो जैसे स्वास्थ्य केन्द्रो, एएनएम सेण्टरों आदि को संबंधित कार्य दायी संस्थाओं से समन्वय स्थापित कर पीडब्लूडी के नोडल अधिकारी उसमें प्रगति लाते हुए गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण करावें तथा धन के अभाव में रूकी हुयी निर्माण कार्यो के संदर्भ में तत्काल धन की मांग हेतु पत्र भेजा जाय। बस्ती में मेडिकल कालेज, इंजीनियरिंग कालेज, हर्रैया में सौ शैय्यायुक्त् ा अस्पताल, संतकबीर नगर में जिलाकारागार आदि के निर्माण में अद्यतन स्थिति के बारे में संबंधित कार्यदायी संस्थाओं निर्माण निगम एवं सीएनडीएस से पूछ-ताछ करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। विभिन्न लाभार्थीपकर योजनाओं में आधार कार्ड के लिंकेज की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए आयुक्त ने इसमें तेजी लाने के निर्देश समाज कल्याण एवं अन्य अधिकारियों को दिये। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने स्वच्छ शौचालय निर्माण, हैण्ड पम्पों की रिबोर की स्थिति, जेई/एईएस का टीकाकरण, विद्यालयों एवं गाॅवों में साफ-सफाई की व्यवस्था, ग्राम पंचायतों के अनटाइड फण्ड के उपयोग की स्थिति आदि की गहन समीक्षा की।
इसके अतिरिक्त विकास कार्यो की मण्डलीय समीक्षा बैठक में खाद्य विभाग, सिचाई विभाग, प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा, ग्रामीण विद्युतीकरण, किसान पारदर्शी योजना, पोलियों ग्रस्त बच्चों की सर्जरी, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, कुकुट विकास, कामधेनु योजना, कौशल विकास मिशन, आसरा योजना, जल निगम, पाइप्ड पेय जल योजना, एनआरएलएम, ग्रामीण सड़कों का नवीनीकरण आदि विभागों एवं योजनाआंे में अद्यतन स्थिति एवं प्रगति की समीक्षा की गयी। राजस्व विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान राजस्व वादों के निस्तारण में प्रगति, बकाया श्रण वसूली की प्रगति, कृषि भूमि आंवंटन में प्रगति, मत्स्य पालन हेतु तालाबों के पट्टे की स्थिति, किसान दुर्धटना बीमा, ग्राम सभा की भूमि पर अवैध अतिक्रमण, लोक ििशकायतों के मामले के निस्तारण में प्रगति आदि विन्दुओं की समीक्षा की गयी। समीक्षा बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त श्री वीपी पाण्डेय, जिलाधिकारी संतकबीर नगर श्री रमाकान्त पाण्डेय, जिलाधिकारी सिंद्धार्थ नगर श्री सूर्य पाल गंगवार, प्रभारी जिलाधिकारी बस्ती श्री अंजनी कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी संतकबीर नगर श्री लालजी यादव, एवं मुख्य विकास अधिकारी सिद्धार्थ नगर श्री अनिल कुमार सहित मण्डल के सभी विकास विभाग, पंचायत, कृषि, विद्युत, पशुपालन विभागों सहित अन्य विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

About The Author

अनुराग श्रीवास्तव विचारपरक के पत्रकार है |

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below