आज की ताजा खबर

अधिकारी चुनाव दायित्वों के प्रति सजग रहे-नरेन्द्र सिंह पटेल

%e0%a4%85%e0%a4%a7%e0%a4%bf%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%9a%e0%a5%81%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%b5-%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%bf%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b5%e0%a5%8b%e0%a4%82

(विचारपरक प्रतिनिधि द्वारा)
बस्ती 6 जनवरी, विधान सभा सामान्य निर्वाचन में लगाये गये सभी अधिकारी “ऐक्टिव मोड” में आ जाय। अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन सुचारू ढंग से करना सुनिश्चित कर ले। अपनी जिम्मेदारियों से भागने अथवा किसी प्रकार के बहाने से बाज आवें।निर्वाचन कार्य को शीर्ष प्राथमिकता देते हुए निर्विध्न, भयमुक्त व सकुशल निर्वाचन कराना सुनिश्चित करें। सभी लाइजन आफिसर अपने क्षेत्र की भैागोलिक जानकारी व्यवहारिक तौर पर पहले से कर ले।राजनीतिक दलों के प्रतिनिधिगण निर्वाचन में अपना रचनात्मक सहयोग दें। अधिकारीगण किसी समस्या को संज्ञान लाकर उसकी इतिश्री न समझे। समस्याओं का निदान किया जाना हर हाल में अपरिहार्य होगा।
उक्त आशय के निर्देश जिलाधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी नरेन्द्र सिंह पटेल ने स्थानीय विकास भवन के कक्ष में निर्वााचन कार्य में लगाये गये प्रभारी अधिकारियों, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों व लाइजन आफिसर्स की अलग-अलग बैठक में दिया। उन्होंने आगामी विधान परिषद चुनाव की तैयारियों की भी गहन समीक्षा किया तथा सभी कार्यवाहियों को सुचारू ढंग से संचालित कराये जाने का आवश्यक दिशा निर्देश दिया। विधान सभा सामान्य निर्वाचन के आदर्श आचार संहिता के संबंध में अपर जिला निर्वाचन अधिकारी संतोष कुमार राय ने कहा कि आर्चाय संहिता का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। श्री राय ने कहा कि कोई राजनैतिक दल या उम्मीद वार ऐसे किसी क्रिया कलाप में सम्मिलित नही होगा, जिससे विद्यमान अन्तर्विरोधों में वृद्धि हो या पारसपरिक धृणा उत्तपन्न होने या विभिन्न धार्मिक या भाषायी जातियों या सम्प्रदायों के मध्य तनाव उत्पन्न होने की संभावना हों, जब भी किसी दल या प्रत्याशी द्वारा किसी अन्य राजनैतिक दल की आलोचना की जाय, तब उक्त आलोचना उनकी नीतियों तथा कार्यक्रमों, पूर्व अभिलेखों और कार्यो तक सीमित रहना चाहिए। निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुसार मतप्राप्त करने के लिए जातिगत या साम्प्रदायिक भावनाओं की अपील कदापि नही की जायेंगी। मस्जिदों, गिरिजाधरों, मन्दिरों या अन्य पूजा स्थलों का प्रयोग निर्वाचन अभियान के मंच के रूप में नही किया जायेंगा। विधान सभा सामान्य निर्वाचन में सभी राजनैतिक दल और उम्मीदवार कर्तव्यनिष्ठापूर्वक ऐसे समस्त क्रियाकलापों से दूर रहेंगे, जो निर्वाचन के विधि के अधीन भ्रष्ट प्रथाए एवं अपराध है।
पुलिस अधीक्षक शैलेष कुमार पाण्डेय ने भयमुक्त वातावरण में विधान सभा सामान्य निर्वाचन और विधान परिषद निर्वाचन को सम्पन्न कराने की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि किसी भी असामाजिक तत्व को चुनाव में गड़बडी फैलाने की ढील कदापि नही दी जायेंगी। पर्याप्त मात्रा में पुलिस बलों की तैनाती की जा रही हैं। श्री पाण्डेय ने निर्वाचन कार्य में लगाये गये सभी अधिकारी, पुलिस अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करने की अपील की। पुलिस अधीक्षक श्री पाण्डेय ने बताया कि किसी सभा के आयोजकगण अनुमति लिए गये सभा में व्यवधान डालने वाले या अन्यथा अव्यवस्था फैलाने का प्रयास करने वाले व्यक्तियों से निपटने के लिए डियुटी पर तैनात पुलिस बल से अनिवार्य रूप से सहायकता प्राप्त करे। आयोजक स्वयं ऐसे व्यक्तियों के साथ कोई कार्यवाही ने करे।
जिला निर्वाचन अधिकारी, जिलाधिकारी श्री पटेल ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों व आचार्य संहिता अनुपालन कराने वाले अधिकारियों से स्पष्ट तौर पर कहा कि वाल राईटिंग पूर्णतया निषिद्ध किया गया है। बिना अनुमति के होडिंग और बैनर आदि भी नही लगाये जायेंगे, बिना अनुमति के किसी व्यक्ति के भूमि, भवन अहाते आदि में ध्वज दण्ड, बैनर आदि भी नही लगायें जायेंगा। श्री पटेल ने बताया कि किसी दल या उम्मीदवार को ंयह पहले ही सुनिश्चित कर लेना होगा कि क्या सभा के लिए प्रस्तावित स्थल पर कोई निषेधात्मक आदेश तो नही पारित हुए है, यदि ऐसे आदेश है तो उनका कड़ाई से अनुपालन किया जाना होगा। निर्वाचन व्यय लेखा की विस्तृत जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी श्री पटेल ने बताया कि निर्वाचन व्यय को पारदर्शी ढंग से अनुरक्षित किया जाय। व्यय के लिए नये खाते खोल लिए जाय। 20 हजार रूपये से अधिक का भूगतान निर्वाचन व्यय खाते से ही किया जाय। यह भी सुनिश्चित किया जाय कि अन्य फुटकर भुगतान निर्वाचन व्यय हेतु खोले गये खाते से ही किया जाय। श्री पटेल ने जोर देकर कहा कि कंट्रोल रूम में सभी सूचनाए उपलब्ध किया जाना सुनिश्चित किया जाय। उन्होने स्पष्ट किया कि मंत्रीगण अपने शासकीय दौरो को निर्वाचन संबंधी प्रचार कार्य से नही जोडेंगे और निर्वाचन संबंधी प्रचार कार्य के दौरान सरकारी तंत्र या सरकारी कार्मिको का भी प्रयोग नही करेंगे। सरकारी वाहनों, सरकारी तंत्रों और कार्मिकों का उपयोग सत्तारूढ दल के हित को बढावा देने के लिए नही किया जायेगा।
बैठक में निर्वाचन संचालन, कानून व्यवस्था तथा वर्न वैलिटी मैपिंग सामान्य व्यवस्था, सुनियोजित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता, निर्वाचन व्यय लेखा एवं उससे संबंधित, निर्वाचन के दौरान विभिन्न अवसरों पर मतदान के लिए वीडियोंग्राफी हेतु वीडियोंग्राफर एवं टेलीविजन, डिजिटल कैमरा, कम्युनिकेशन, लाइव वेव कास्टिंग एवं एसएमएस आधारित निर्वाचन सूचना प्रबंधन, यातायाता व्यवस्था, परिवहन एवं ईधन, इवीएम व्यवस्था, मास्टर टेªनर तैयार कराना, मतदान केेन्द्र एवं मतगणना केन्द्र, चुनाव शिकायते एवं विधि प्रकोष्ठ, हेल्प लाइन, काॅल सेण्टर, आदर्श आचार संहिता, विभिन्न टीमें, एमसीएमसी, फ््लाइंग स्क्वायर्ड, स्टेटिक सर्विलांस, वीडियों निगरानी टीम, वीडियों अवलोकन टीम, ईआरएमएस निर्वाचन नामावली एवं इपिक, लेखन सामाग्री, सूचना प्रौद्योगिकी कम्प्यूटराईजेशन, आईटी अप्लिकेशन, चिकित्सा व्यवस्था, विद्युत आपूर्ति, दिव्यांग मतदाता एवं उनको उपलब्ध करायी जाने वाली सुविधाए, स्ट्रांग रूम, विभिन्न कार्य स्थलों की सफाई एवं पेयजल व्यवस्था पर बिन्दुवार विस्तृत समीक्षा की गयी। जिला निर्वााचन अधिकारी श्री पटेल ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन बेहतर ढंग से करें। जिस अधिकारी को जो दायित्व दिया गया है, उसको अच्छे तरीके से सम्पन्न करे।
इस अवसर पर प्रभारी अधिकारी कार्मिक, मुख्य विकास अधिकारी अंजनी कुमार सिंह ने विधान सभा सामान्य निर्वाचन तथा विधान परिषद निर्वाचन में लगाये जाने वाले कार्मिको की व्यवस्था आदि के संबंध मे विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराया। मुख्य कोषाधिकारी गोपाल खरे ने निर्वाचन व्यय लेखा के लिए बनायी गयी रणनीत पर विस्तृत प्रकाश डाला।
इस अवसर पर जिला ािवकास अधिकारी डी0डी0 शुक्ला, सह प्रभारी व्यय लेखा आलोक श्रीवास्तव, अखिलेश पाठक, राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों में पवन कुमार वीएसपी, विवेकानन्द मिश्र वीजेपी, के0के0 त्रिपाठी सीपीआईएम, अशरफी लाल सीपीआई, सियाराम सोनकर, गिरजेश पाल, प्रशान्त यादव समाजवादी पार्टी सहित सभी प्रभारी अधिकारी व लाइजन आफीसर उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the text from the image below